Top
Begin typing your search...

जब लोकसभा में बोले गृह मंत्री अमित शाह, क्या बंदूक उनकी कनपटी पर रख कर लायें?

Amit Shah in Lok Sabha

जब लोकसभा में बोले गृह मंत्री अमित शाह, क्या बंदूक उनकी कनपटी पर रख कर लायें?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लोकसभा में आज कश्मीर में अनुच्छेद 370 पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने 5वीं बार संसद में यह बात दोहराई. जब बार बार नेशनल कांफ्रेंस के सांसद फ़ारूक़ अब्दुल्लाह के बारे में बार बार सवाल करने पर नाराजगी जाहिर की है .

अमित शाह ने कहा - कि मैंने DGP और चीफ़ सेक्रेटरी से से बात करने के बाद यह बात कही है. सुबह गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था -"फ़ारूक़ अब्दुल्लाह अपने घर में हैं सकुशल है, ना हिरासत में है ना नजरबंद है, अब वो यहां आना नहीं चाहते तो मैं कुछ नहीं कर सकता बंदूक उनकी कनपटी पर रखकर यहां नहीं लाया जा सकता".

हालांकि इस पर कई बड़े देश के हित की सोच रखने वाले मुस्लिम ने यह भी कहा कि कश्मीर से धारा 370 हटने से कुछ बेवड़े बड़े आहत हैं। जरा बताइये- क्यों इतना बेचैन हो ? अगर आप भारतीय मुसलमान हैं तो क्या आपको 370 लगे रहने तक कश्मीर में जमीन खरीदने, वोट दे, चुनाव लड़ने का अधिकार था ? वहां की लड़की से निकाह पर कश्मीर की नागरिकता मिलती थी क्या ? नहीं ना।

उन्होंने कहा कि जबकि पाकिस्तान का लड़का कश्मीरी लड़की से विवाह करता था, तो उसे कश्मीर की नागरिकता मिलती थी। हां, कश्मीरी आपको कहते क्या हैं- ''भारत के मुसलमान। '' भारत में आपकी दुश्वारी पर क्या कश्मीर में आंदोलन हुआ ?- नहीं। तब 370 हटने पर बेवडा़पन क्यों ?? भारत में नफरत व सांप्रदायिक डिवीजन के लिए कुछ हद तक कश्मीर के घटनाक्रम भी जिम्मेदार है। अगर आप भारतीय हैं तो छाती ठोंक कर कहिये कि हम भारतीय हैं। भारत के लिए लड़ेंगे, भारत में जियेंगे। भारत में मरेंगे। और भारत का सम्मान बढ़ायेंगे- जय हिंद

Special Coverage News
Next Story
Share it