Begin typing your search...

महराजगंज में इस विधायक के लेटर ने डीएम के सिंहासन को हिला दिया

महराजगंज में इस विधायक के लेटर ने डीएम के सिंहासन को हिला दिया
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

यूपी सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए निचलौल तहसील की गौशाला में अनियमितता पाए जाने पर महाराजगंज के डीएम अमरनाथ उपाध्याय समेत पांच अधिकारियों को निलंबित कर दिया है। मामला महाराजगंज के मधवालिया गौ सदन का है। गौशाला में पशुओं की कमी के कारण सरकार ने यह कदम उठाया है। अब डॉ। उज्ज्वल कुमार महराजगंज के नए डीएम होंगे। मुख्य सचिव आर के तिवारी ने बताया कि पांच अफसरों को निलंबित किया गया है। साथ ही उनके ऊपर एफआईआर दर्ज कर विभागीय जांच भी की जाएगी।




बता दें कि इस सम्बन्ध में दो अक्टूबर को सिसवा विधायक प्रेमसागर पटेल ने एक पत्र लिखकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कार्रवाई करने की मांग की थी। उन्होंने जांच के लिए किसी बाहरी एजेंसी को जिम्मेदारी देने की बात भी अपने पत्र में लिखी थी ताकि स्थानीय स्तर पर जांच प्रभावित न हो सके।

विधायक प्रेमसागर पटेल इससे पहले भी क्षेत्र की जनता की समस्याओं को लेकर अवाज उठाते रहे हैं। हाल ही में उन्होंने विधानसभा में बयान दिया था कि जनता ही हमे चुन कर भेजती है और यदि हम यहां आ कर जनता की मांग और उनकी आवाज को उठा नहीं सकते तो जनता हमें माफ नहीं करेगी। पटेल के इस बयान की बड़ी प्रशंसा हुई थी। अपने क्षेत्र की जरूरी और जनता की सुविधाओं की जरूरतों के लेकर विधानसभा में आवाज उठाई है। जिससे मुख्यमंत्री का ध्यान जनता की परेशानियों की तरफ जा सके।

मिली जानकारी के मुताबिक महाराजगंज के डीएम अमरनाथ उपाध्याय करीब डेढ़ साल से जनपद में पैर जमाए हुए थे, साथ ही कई मामलों में उनकी लापरवाही भी सामने आई लेकिन ऊपर सांठगांठ होने का प्रचार कर वह बेख़ौफ़ थे। जिले के पत्रकार और सामजिक कार्यकर्ता उन भ्रष्टाचार करवाने का आरोप भी लगाते रहे हैं जिसके चलते कुछ लोगों को प्रताड़ित भी किया गया।

Special Coverage News
Next Story
Share it