Begin typing your search...

12 साल की बुआ, 13 साल के भतीजे की ये है लव स्टोरी, मंदिर में रचाई शादी

12 साल की बुआ, 13 साल के भतीजे की ये है लव स्टोरी, मंदिर में रचाई शादी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जब आप किसी से प्यार करते है तो आप सिर्फ उसी के बारे में सोचने लगते है, किसी से प्यार होने पर और भी कई लक्षण साफ नजर आते है जैसे की, हर पल आपके ख्यालों में सिर्फ वही रहता है, आपको उसकी गलती भी भूल नजर आती है या उसकी गलतियों पर आपको प्यार आता है! उसकी गैर-मौजूदगी में आपको अकेलापन महसूस होता है! जब उस दर्द होता है तो आपको भी दर्द होता है

प्यार एक एहसास है जो आपकी जिंदगी बदल सकता है जिसका एहसास उन्हीं को होता है जो किसी से सच्चा प्यार करते है! जब आपको किसी से प्यार होने लगता है तो आपमें खुद बा खुद सकारात्मक बदलाव आने लगते है ऐसा ही एक मामला पश्चिम चंपारण के बगहा में आया है जहां पर 12 साल की मुंहबोली बुआ को 13 साल के भतीजे से प्यार हो गया।

दोनों के बीच कच्ची उम्र में हुआ प्यार परिवार वालों के विरोध के कारण छह साल तक एक दूजे का होने का इंतजार करता रहा। जैसे ही दोनों बालिग हुए बुआ भागकर भतीजे के घर पहु्च गई और मंदिर में शादी रचा ली। अभी लड़की की उम्र 18 और लड़के की उम्र 19 साल है।

रामनगर क्षेत्र के वार्ड नं 20 गोल बाजार का आदित्य पटेल 6 साल पहले पूर्वी नरकटियागंज स्थित अपने मामा के यहां एक शादी में गया था। वहां शिवगंज मुहल्ले की रहने वाली आंचल पटेल से उसकी नजरें चार हुईं। फिर दोनों एक दूसरे को दिल दे बैठे।

तब आदित्य की उम्र केवल 13 और आंचल की 12 वर्ष थी। दोनों के प्यार की बातें परिवार को पता चलीं तो विरोध शुरू हो गया। लड़की के घर वाले इसलिए विरोध करने लगे क्योंकि लड़की रिश्ते में लड़के की मुंहबोली बुआ लगती थी।

लड़की पर बंदिश भी लगाई उससे भी नही मानी तो घर वालों ने पिटाई भी की और हर वो प्रयास किया गया जो लड़की को लड़के से दूरी बना ले। लेकिन इसके बावजूद दोनों आपस में बातें करते रहे। शादी और बालिग के लिए छह साल तक दोनों ने इंतजार किया।

जैसे ही लड़की की उम्र 18 वर्ष हुई, तो नरकटियागंज से 17 किमी दूर रामनगर अपने प्रेमी के घर आ गई। लड़की के घर से गायब होने के बाद उसके परिजन भी उसे ढूंढते हुए प्रेमी के घर पहुंच गए। इसके बाद प्रेमी-प्रेमिका की जिद के आगे वे झुके और उन्होंने भी इस शादी की रजामंदी दे दी। इसके बाद मंगलवार को रामनगर के मंदिर में दोनों की शादी कर दी गई।



सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it