Top
Begin typing your search...

इंसान जैसी शक्ल वाले बच्चे को बकरी ने दिया जन्म

इंसान जैसी शक्ल वाले बच्चे को बकरी ने दिया जन्म
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

क्या कभी आपने यह सुना है कि किसी जानवर ने इंसान जैसी शक्ल वाले बच्चे को जन्म दिया है? तो आप लोग यही कहेंगे कि भला जानवर इंसान जैसी शक्ल वाले बच्चे को जन्म कैसे दे सकता है? जानवर तो जानवर जैसे ही बच्चे देगा। आपका भी कहना बिल्कुल सही है परंतु आज हम आपको एक ऐसी खबर के बारे में बताने वाले हैं, जिसके बारे में जानकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे।

दरअसल, एक बकरी ने इंसानी शरीर जैसे बच्चे को जन्म दिया है। जी हां, जो भी लोग इसे देख रहे हैं, वह आश्चर्यचकित हो गए हैं। पूरा चेहरा किसी शिशु की तरह ही था और बच्चे की पूंछ भी नहीं थी। जैसे ही यह खबर गांव में फैली तो इस अनोखे बकरी के बच्चे को देखने के लिए लोग वहां पर इकट्ठा हो गए। इस पूरी घटना की इलाके में खूब चर्चा हो रही है।

दरअसल, हम आपको जिस खबर के बारे में बता रहे हैं, यह चौंकाने वाली खबर आसाम के कछार जिले की धौलाई विधानसभा इलाके के गंगा नगर गांव से सामने आई है। यहां पर एक पालतू बकरी ने इंसान जैसे दिखने वाले बच्चे को जन्म दिया था और सबसे आश्चर्य कर देने वाली बात यह है कि इस बच्चे के दो पैरों और कानों के अलावा बाकी पूरा शरीर इंसान के बच्चों के जैसा ही था। परंतु बच्चे ने जन्म के आधे घंटे के बाद भी अपने प्राण त्याग दिए।

पशुपालक का ऐसा बताना है कि सोमवार को उनकी बकरी ने इंसानी शरीर जैसे बच्चे को जन्म दिया था। जब उन्होंने बकरी के बच्चे को देखा तो वह खुद देख कर चौंक गए थे। बकरी ने जिस बच्चे को जन्मा था, उसका पूरा चेहरा किसी शिशु की तरह ही था और बच्चे की पूंछ भी नहीं थी। जैसे ही यह खबर गांव में फैली, वैसे ही इसे देखने के लिए लोगों की भीड़ लग गई। अब यह घटना पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है।

इंटरनेट पर बच्चे की तस्वीरें काफी तेजी से वायरल हो रही हैं। आप तस्वीरों में देख सकते हैं कि बकरी ने अविकसित जीव को जन्म दिया है और उसकी शक्ल भी इंसानों की तरह ही मिलती जुलती नजर आ रही है। काली बकरी के पेट से भूरे रंग के शिशु समान बच्चे का जन्म होने पर गांव वालों ने यह मान लिया था कि उनके किसी के पूर्वज ने जन्म लिया है। लेकिन बच्चा अधिक देर तक जीवित न रह सका। जन्म के कुछ देर बाद ही बच्चे ने अपने प्राण त्याग दिए, जिसके बाद गांव वालों ने पारंपरिक रीति-रिवाजों के मुताबिक उसको दफना दिया।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it