Top
Begin typing your search...

टॉयलेट में बैठते ही सांप ने प्राइवेट पार्ट में डस लिया (देखें वी‌डियो)

उसमें पहले से ही बैठे सांप ने उसके प्राइवेट पार्ट को डस लिया और अपने दांतों से जकड़े रखा। उसने सांप को जोर से झटका दिया और रक्त निकलती हालत में प्राइवेट पार्ट पकड़कर टॉयलेट से बाहर भागा।

टॉयलेट में बैठते ही सांप ने प्राइवेट पार्ट में डस लिया (देखें वी‌डियो)
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सांप को देखते ही अच्छे-अच्छों के पसीन छूट जाते हैं। ऐसे में आप सोचिये कि यदि आप टॉयलेट में हों और नीचे से आपके प्राइवेट पार्ट में सांप काट ले तो क्या हो? ऐसा ही कुछ हुआ थाइलैण्ड के एक युवक के साथ। वह टॉयलेट में जैसे ही बैठा, उसमें पहले से ही बैठे चार फुट लंबे सांप ने उसके प्राइवेट पार्ट को डस लिया। उसके बाद युवक और उसके परिवार वाले डर गये और युवक को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसका उपचार किया गया।

थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक से 20 किमी दूर नोन्थाबुरी विस्तार में सिराकोप सामुकारत टॉयलेट में जैसे ही बैठा, उसमें पहले से ही बैठे सांप ने उसके प्राइवेट पार्ट को डस लिया और अपने दांतों से जकड़े रखा। उसने सांप को जोर से झटका दिया और रक्त निकलती हालत में प्राइवेट पार्ट पकड़कर टॉयलेट से बाहर भागा। 18 वर्षीय सिराकोप को तुरंत ही उनकी मां ने संभाला।




जब वह इस चोट से ठीक हो गया और मीडिया पर बात फैली तो मीडिया वाले उसके यहां पहुंच गये। सिरोकोप ने इस घटना को मीडिया संस्थाओं को फिर से एक्ट करके बताया।

उसने कहा कि मैं टॉयलेट में गया। जैसे ही मैं टॉयलेट की सीट पर बैठा, तुरंत ही मेरे प्राइवेट पार्ट में बहुत जोर से दर्द हुआ। नीचे देखा तो मेरे प्राइवेट पार्ट पर सांप लटक रहा था। मैंने एक झटके से सांप को मेरे प्राइवेट पार्ट से हटाया और दौड़कर बाहर आ गया। उसके बाद चारों तरफ खून फैल गया था।

जांच के दौरान सांप टॉयलेट में ही अंदर बैठा मिला। सांप लगभग 4 फुट लंबा था। सांप पकड़ने वाले को बुलाकर उसे बाद में जंगल में छोड़ दिया गया।

इस घटना से दहशत में आ चुकी सिराकोप की माता ने कहा कि मैं नहीं जानती कि सांप हमारे घर में कैसे घुसा। वह शायद ड्रेनेज के रास्ते से टॉयलेट में आ गया होगा। मैं जानती हूं कि इस सांप ने मेरे बेटे को कितना नुकसान पहुंचाया है किंतु वह जहरीला सांप नहीं था इसके लिए मैं भगवान को थैंक्स कहती हूं।



Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it