Begin typing your search...

बिहार में आज से BJP के चुनाव प्रचार का आगाज, Virtual Rally को संबोधित करेंगे अमित शाह

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह वीडियो कन्फ्रेंसिंग, फेसबुक लाइव के जरिए सभा को संबोधित करेंगे.

बिहार में आज से BJP के चुनाव प्रचार का आगाज, Virtual Rally को संबोधित करेंगे अमित शाह
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की मुख्य सहयोगी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराजगी और फिर इस तरह की खबरों को लोजपा के खारिज करने के बाद आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह बिहार में डिजिटल रैली करेंगे. यह रैली बिहार में चुनावी बिगुल मानी जा रही है.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की आज की वर्चुअल रैली में बिहार के सियासी समीकरणों और भाजपा और जडयू गठबंधन की स्थिति साफ हो सकती है. इस साल के अंत में होने वाले संभावित बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी की ये प्रचार की शुरुआत है.

अमित शाह की इस रैली के बीच भाजपा के एक वर्ग को लगता है कि प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) के मुद्दे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की बहुत आलोचना हो रही है और इससे भाजपा को नुकसान हो सकता है. हालांकि अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं को लगता है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को किसी भी तरह से दरकिनार करना भाजपा के लिए जोखिम भरा हो सकता है, क्योंकि नीतीश को बिहार में अभी भी लोकप्रिय समर्थन प्राप्त है.

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह वीडियो कन्फ्रेंसिंग, फेसबुक लाइव के जरिए सभा को संबोधित करेंगे. वर्चुअल सभा में राज्य के 243 विधानसभा क्षेत्रों के कम से कम एक लाख लोगों के शामिल होने की संभावना जताई गई है. इसके बाद भाजपा अध्यक्ष ज़े पी़ नड्डा फेसबुक लाइव के जरिए दक्षिण बिहार के पार्टी के प्रमुख कार्यकर्ताओं को भी संबोधित करेंगे.

कोरोना संकट और अंदरूनी कलह

आपको बता दें कि लोजपा (LJP) ने पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व क्षमता पर सवाल उठाया था. हालांकि, LJP अध्यक्ष चिराग पासवान ने यह साफ किया था कि चाहे वह नीतीश कुमार के साथ जाएं या अपना मन बदलें, वह BJP के साथ ही रहेंगे, लेकिन अब लोजपा ने यह भी साफ कर दिया है कि एनडीए की ओर से बिहार में मुख्यमंत्री का चेहरा नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को बनाए जाने को लेकर पार्टी नाराज नहीं है. उन्होंने कहा कि हम सवाल इसलिए उठाते हैं ताकि सरकार में सुधार हो. प्रवासी मजदूरों की समस्या को लेकर नीतीश सरकार को और गंभीर होना चाहिए.

दरअसल चिराग पासवान के पिता और भारत सरकार में मंत्री राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने कोरोना संकट के समय बिहारी मजदूरों के घर वापसी न कराने को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. उन्होंने राज्य सरकार पर यह आरोप लगाया था कि वह इस संकट से निपटने में कारगर नहीं रही. पासवान ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की तारीफ़ की.

RJD मनाएंगी "गरीब अधिकार दिवस'

इन सबके बीच बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी RJD आज के दिन को 'गरीब अधिकार दिवस' के रूप में मनाने जा रही है. तेजस्वी यादव ने पटना में कहा था कि अमित शाह की वर्चुअल रैली गरीबों की मजाक है, ये लोग इस लॉकडाउन में सबसे ज्यादा परेशान हुए हैं.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it