Begin typing your search...

भारत बंद के कारण जाम में फंसी रही बीमार बच्ची, अस्पताल पहुंचने से पहले मौत

भारत बंद की दर्दनाक तस्वीर बिहार के जहानाबाद से सामने आई है। जहानाबाद में जगह-जगह लगे जाम के कारण एक बच्ची की मौत हो गई।

भारत बंद के कारण जाम में फंसी रही बीमार बच्ची, अस्पताल पहुंचने से पहले मौत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली : भारत बंद का व्यापक असर आज पूरे देश में देखा जा रहा है। बंद के चलते जहां आम जनजीवन अस्त-व्यस्त है वहीं हिंसक झड़पों के चलते कई जख्मी भी हुए हैं। भारत बंद की दर्दनाक तस्वीर बिहार के जहानाबाद से सामने आई है। जहानाबाद में जगह-जगह लगे जाम के कारण एक बच्ची की मौत हो गई।

भारत बंद के दौरान वाहन नहीं मिलने के कारण सोमवार को पिछले तीन दिनों से बीमार एक दो वर्षीया बच्ची की मौत हो गई। मृतका गया जिले के मेन थाना अंतर्गत बाला बिगहा निवासी प्रमोद मांझी की बेटी गौरी कुमारी बताई जाती है। प्रमोद ने बताया कि उसकी बेटी पिछले तीन दिनों से बीमार थी। सोमवार की सुबह उसकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। अस्पताल लाने के लिए उसने कई जगहों पर वाहन की तलाश की।

लेकिन, भारत बंद के कारण उसे गाड़ी नहीं मिली। थक हार कर वह अपनी बच्ची को गोद में लेकर किसी तरह पाईबिगहा पहुंचा। पाईबिगहा से टेंपो रिजर्व कर वह जहानाबाद आ रहा था। जहानाबाद आने के क्रम में अस्पताल मोड़ के समीप उसकी मौत हो गई। इधर, बंद के दौरान बच्ची की मौत की सूचना जंगल में आग की तरह फैल गई। सूचना मिलने के बाद एएसपी पंकज कुमार, एसडीएम परितोष कुमार और एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव अस्पताल मोड़ के समीप पहुंचे।

पदाधिकारियों के समक्ष प्रमोद ने बताया कि वाहन नहीं मिलने के कारण वह सही समय पर अस्पताल नहीं पहुंच सका। गांव और इलाके में कोई गाड़ी नहीं मिली। काफी दूर आने के बाद एक टेम्पो मिली। उसने बंद के दौरान गाड़ी रोकने की घटना से इनकार किया। एसडीएम परितोष कुमार ने बताया कि बच्ची की तबीयत पहले से खराब थी। अस्पताल लाने के क्रम में उसकी मौत हो गई। बंद के दौरान पटना-गया मुख्य सड़क मार्ग पर कहीं जाम नहीं था। प्रशासन वाहनों का परिचालन जारी रखने के लिए अहले सुबह से ही सक्रिय था।



न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक क्षेत्र के एसडीओ ने बंद के चलते बच्ची की मौत को सिरे से खारिज कर दिया है। एसडीओ ने कहा है कि स्वास्थ्य व्यवस्था और एंबुलेंस सेवा सुचारू है। बच्ची की मौत का कारण बीमारी है। एसडीओ ने कहा कि बीमार बच्ची को इलाज के लिए देरी से लाया गया जिसके कारण उसकी मौत हुई है।

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it