Begin typing your search...

Bihar News : थाना परिसर में किन्नरों के दो समूह ने किया अर्धनग्न प्रदर्शन, जानें क्या है वजह?

बिहार के बेतिया में क्षेत्राधिकार को लेकर किन्नरों के दो समूहो ने शिकारपुर थाना परिसर में जमकर प्रदर्शन किया, किन्नर थाना परिसर में ही अर्धनग्न होकर हंगामा भी करने लगे...

Bihar News : थाना परिसर में किन्नरों के दो समूह ने किया अर्धनग्न प्रदर्शन, जानें क्या है वजह?
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार के बेतिया में क्षेत्राधिकार को लेकर आज सोमवार को किन्नरों के दो समूहो ने शिकारपुर थाना परिसर में जमकर प्रदर्शन किया| बताया गया कि किन्नर थाना परिसर में ही अर्धनग्न होकर हंगामा भी करने लगे। पुलिस का कहना है कि इससे पहले दोनो समूहों के बीच नगर के वार्ड संख्या दस में जम कर मारपीट भी हुई और एक स्कॉर्पियो वाहन के शीशे तक तोड़ दिये गये। मारपीट के बाद एक युवक को किन्नरों ने हथियार समेत पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया। हिरासत में लिया गया युवक भैरोगंज का विष्णु कुमार है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रभारी थानाध्यक्ष शकील अहमद ने बताया कि भैरोगंज के किन्नर गुलाबो समूह और नरकटियागंज के माया रानी समूह के बीच क्षेत्राधिकार को लेकर विवाद चल रहा है। नरकटियागंज के समूह ने भैरोगज के गुलाबो समूह के दो किन्नरों को अपने क्षेत्र में पकड़ लिया। इसको लेकर दोनो समूह के बीच विवाद बढ़ गया। भैरोंगज समूह के आधा दर्जन से अधिक किन्नर अपने दो किन्नरों को छुड़ाने के लिए शिकारपुर थाना पहुंच गये।

जिसके बाद पुलिस ने उन्हे आपसी समझौता कर लेने का सलाह दे थाने से चले जाने को कहा। इस पर किन्नर थाना परिसर से निकल कर नरकटियागंज के किन्नरों के समूह के पास पहुंच गये। बात बढ़ी और किन्नरों के दोनो समूह के बीच जम कर मारपीट हुई। इस पर नरकटियागंज के किन्नरों ने मारपीट के दौरान एक युवक को दबिला व कैंची के साथ पकड़ कर थाने को सौप दिया। थाना परिसर में फिर से दोनो समूह के बीच समझौता होने लगा। इसी बीच किसी पुलिस अधिकारी ने किन्नरों पर फब्तियां कस दी। इस पर किन्नर भड़क गये और अर्धनग्न हो शेरगुल करने लगे।

पुलिस अधिकारियों ने मिल कर बाद में दोनो पक्षों को समझा कर शांत कराया। प्रभारी थानाध्यक्ष शकील अहमद ने बताया कि किन्नरों के दोनो समूह को समझा बुझा कर घर भेज दिया गया है। दोनो समूहों की ओर से आवेदन नही दिया गया है।आवेदन मिलने पर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

Sakshi
Next Story
Share it