Begin typing your search...

बिहार: रामनाथ कोविंद ने हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा में टेका माथा

शुक्रवार को सुरक्षा के कड़े इंतजाम के बीच राष्‍ट्रपति ने अपनी धर्मपत्‍नी सविता कोविन्‍द के साथ महावीर मंदिर में दर्शन किए।

बिहार: रामनाथ कोविंद ने हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा में टेका माथा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार: बिहार के तीन दिवसीय दौरे परके अंतिम दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ह‍रमंदिर तक गए। बुद्ध स्‍मृति पार्क का भी दौरा किया। खादी माल भी गए। राष्‍ट्रपति एवं देश की प्रथम महिला नागरिक सविता कोविन्‍द का जगह-जगह भव्‍य स्‍वागत किया गया। बिहारी कहे जाने पर महामहिम ने काफी प्रसन्‍नता जताई।


शुक्रवार को सुरक्षा के कड़े इंतजाम के बीच राष्‍ट्रपति ने अपनी धर्मपत्‍नी सविता कोविन्‍द के साथ महावीर मंदिर में दर्शन किया। राष्ट्रपति ने आम भक्तों की तरह हाथ-पैर धोकर मंदिर परिसर में प्रवेश किया। मंदिर की ओर से हाथ पैर धोने की व्यवस्था की गई थी। उन्‍होंने नैवेद्यम का भोग लगाया।आचार्य किशोर कुणाल ने उन्हें पूजा-अर्चना कराई। इसके बाद गर्भ गृह की परिक्रमा की। महावीर मंदिर संरक्षक आचार्य किशोर कुणाल ने लाल गुलाब देकर उनका स्वागत किया।


राष्ट्रपति ने महावीर मंदिर में स्थापित दो प्रतिमा की चर्चा देश की प्रथम महिला से की। बताया कि देश का पहला हनुमान मंदिर है जहां हनुमान की दो युगल प्रतिमा है। एक मनोरथ को पूर्ण करने वाले और दूसरा संकट हरने वाले हैं। मंदिर की प्रशंसा करते हुए कहा ये देश का विख्यात मंदिर बन गया है। यहां से अयोध्या में संचालित राम रसोई की प्रशंसा पूरी दुनिया में हैं। राष्ट्रपति ने महावीर मंदिर द्वारा चल रहे कैंसर संस्थान, महावीर वात्सल्य व विभिन्न हॉस्पिटल के बारे में जानकारी ली।

राष्ट्रपति को चेन्नई से बनकर आया विराट मंदिर का प्रतीक चिन्ह, नैवेद्यम, शाल भेट किया गया। आचार्य किशोर कुणाल ने कहा कि मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविन्‍द पहली बार आए हैं। वैसे राज्यपाल रहते तीन चार-बार आ चुके हैं। कुणाल ने कहा कि राष्ट्रपति भवन आकर अपनी पुस्तक दमन तक्षकों का भेंट करेंगे। पुस्तक में कुणाल के पुलिस नौकरी से जुड़ी बातें हैं जिस पर राष्ट्रपति ने उन्हें आने का आमंत्रण भी दिया। राष्ट्रपति ने स्वयं अयोध्या में चल रहे राम रसोई की चर्चा स्वयं आचार्य किशोर कुणाल से की। देश की पहली महिला का स्वागत पद्यश्री उपेंद्र महारथी की पुत्री महाश्वेता महारथी ने किया।

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द पटना साहिब के गुरु गोविंद सिंह के जन्‍मस्‍थल स्थित हरमंदिर पहुंचे यहां उन्‍होंने श्रद्धाभाव से मत्‍था टेका।


राष्ट्रपति ने मॉल में महात्मा गांधी की प्रतिमा को खादी का माला पहनाया। इसके बाद उन्होंने चरखा चलाया। साथ ही खादी व सिल्क के कपड़ों खरीदारी भी की। राष्ट्रपति ने अपने लिए 3 कुर्ता और 2 पायजामा और पत्नी व बेटी के लिए सिल्क की साड़ियां खरीदी। इसके बाद उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने भगवान बुद्ध और मिथिला पेंटिंग भेंट की। वे बुद्धा स्मृति पार्क भी गए।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it