Begin typing your search...

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा भी हुए कोरोना संक्रमित, ट्वीट के जरिए दी जानकारी

डॉ. मदन मोहन झा ने शुक्रवार को ट्वीट कर खुद संक्रमित होने की जानकारी शेयर की। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैंने खुद को आइसोलेट कर लिया है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा भी हुए कोरोना संक्रमित, ट्वीट के जरिए दी जानकारी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार में भी कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है| बिहार में कोरोना तेजी से वीआईपी यानी खास लोगों को अपने शिकंजे में ले रहा है। दोनों डिप्टी सीएम, पूर्व सीएम जीतन राम मांझी के परिवार, मोदी सरकार में मंत्री नित्यानंद और अश्विनी चौबे के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा भी कोरोना पॉजिटिव निकले है|

बता दें कि डॉ. मदन मोहन झा ने शुक्रवार को ट्वीट कर खुद संक्रमित होने की जानकारी शेयर की। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैंने खुद को आइसोलेट कर लिया है। लोगों से अपील करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जो भी विगत दिनों में मेरे संपर्क में आए हैं, कृपया वे अपना टेस्ट ज़रूर करवा लें और सावधानी बरतें।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के कई कर्मचारी भी संक्रमित हो गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्राधिकरण में एक सदस्य के कोरोना संक्रमित होने पर जब जांच कराई गई तो आधा दर्जन से ज्यादा कर्मी कोरोना की चपेट में पाए गए। प्राधिकरण के उपाध्यक्ष उदय कांत मिश्रा ने कहा कि जो लोग कोरोना की चपेट में आ गए हैं, उन्हें छुट्टी दे दी गई है|

बिहार विधानसभा के ढाई दर्जन कर्मचारी संक्रमित

बता दें कि बिहार विधानसभा में कोरोना का कोहराम मजा हुआ है। गत दो-तीन दिनों में यहां करीब ढाई दर्जन कर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद शुक्रवार को सभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने 8 से 16 जनवरी तक सभा सचिवालय को बंद रखने का आदेश दिया है। बता दें कि संक्रमितों में सभाध्यक्ष सेल के भी कई कर्मी, हाउस गार्ड व सफाई कर्मी शामिल हैं। हालांकि अच्छी बात यह है कि खुद सभाध्यक्ष की रिपोर्ट निगेटिव आयी है।

श्री सिन्हा ने बताया कि कर्मियों में तेजी से फैल रहे संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए यह निर्णय लिया गया है। इस दौरान कमेटियों की आहूत बैठकें भी स्थगित रहेंगी। अब समितियों की बैठकें 17 जनवरी से आरंभ होंगी। बंदी के दौरान सभा सचिवालय को सेनेटाइज किया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार विधानसभा के सभी कर्मचारी और अधिकारी मुख्यालय में मौजूद रहेंगे और अपने अपने मोबाइल ऑन रखेंगे। साथ ही सभा अध्यक्ष ने कहा कि सभा सचिवालय के सभी कर्मचारियों का आरटीपीसीआर टेस्ट कराना अनिवार्य होगा। सुरक्षाकर्मी रोजाना कार्यालय आयेंगे। श्री सिन्हा ने पूर्व में सभा सचिवालय में बनाए गए कोरोना कंट्रोल रूम को फिर से चालू करने का भी आदेश दिया है।

Sakshi
Next Story
Share it