Begin typing your search...

मां के आंचल से लिपटा मासूम भी गया जेल, 9 माह की है गर्भवती, अब जेल में देंगी बच्चे को जन्म

मां के आंचल से लिपटा मासूम भी गया जेल, 9 माह की है गर्भवती, अब जेल में देंगी बच्चे को जन्म
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार के भोजपुर जिले के बड़हरा प्रखंड अंतर्गत कृष्णगढ़ थाना क्षेत्र के सोहरा–त्रिभुवानी गांव में प्रेमी चंदन तिवारी की निर्मम हत्या की गुत्थी का खुलासा होते ही एक ढाई साल के मासूम और आरोपी प्रेमिका के गर्भ में पल रहे बच्चे को जेल जाना पड़ रहा है। मासूम इस गुनाह के बिलकुल कसूरवार नहीं थे । दरअसल,आशिकी के चक्कर में शादीशुदा प्रेमिका के ससुराल रात में पहुंचे एक आशिक को पति और उसके ससुराल वालों ने पीट–पीटकर निर्मम हत्या कर दी थी ।भोजपुर पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल आरोपी प्रेमिका रूबी देवी,उसके पति राजू पासवान, देवर सचित पासवान और ससुर वीर बहादुर पासवान को गिरफ्तार कर लिया गया है ।

प्रेमी को अपने ससुराल बुलायी थी प्रेमिका

पुलिस अधीक्षक संजय कुमार सिंह बताया की शाहपुर थाना क्षेत्र के धमवल गांव निवासी दया शंकर तिवारी का पुत्र चंदन तिवारी सोमवार के मध्य रात्रि सोहरा गांव में अपनी प्रेमिका रूबी से मिलने के लिए किसी के बुलावे पर गया था। मिलने के दौरान घर के लोगों के द्वारा आपत्तिजनक स्थिति में देखा गया,जब चंदन पर उनलोगों के द्वारा वार किया गया तो भागने के क्रम में चंदन छत से नीचे सीधे गिरने या मारपीट के दौरान गंभीर चोट लगने से उसकी मृत्यु हो गई । पुलिस के द्वारा त्वरित कार्यवाई करते हुए घटना में शामिल प्रेमिका समेत चार लोगों की गिरफ्तारी की गई है । महिला की भूमिका कही ना कही चंदन को अपने ससुराल तक बुलाने की है । इस पक्ष में पहले भी दो घटनाएं शाहपुर थाना क्षेत्र के धमवल गांव में रूबी देवी के पति और प्रेमी दोनों अलग–अलग मारपीट की घटनाओं में जेल जा चुके है।

शादी से पहले से चल रहा था प्रेम प्रसंग

दरअसल, शाहपुर थाना क्षेत्र के धमवल गांव निवासी गुलाब पासवान की पुत्री रूबी देवी की शादी साल 2018 में कृष्णगढ़ थाना क्षेत्र के सोहरा–त्रिभूवानी गांव निवासी वीर बहादुर पासवान के पुत्र राजू पासवान से बड़े ही धूमधाम से हुई थी। बताया जाता है की रूबी और चंदन की प्रेम लीला शादी से पहले से ही चल रहा था ।बाद में रूबी की शादी हो गई,हालांकि शादी के बाद भी दोनों का फोन पर बात करना,प्रेमी चंदन द्वारा उसके ससुराल जाकर मिलने का सिलसिला खत्म नही हुआ । जब भी रूबी के पति घर पर नहीं रहता तब रूबी अपने आशिक को घर पर बुलाती थी । शादी के बाद जब रूबी के पति राजू अपने ससुराल किसी शादी समारोह में गया था,तभी प्रेमी चंदन वहां आ धमका और बोलने लगा की तुम रूबी को क्यों मारते–पीटते हो,तभी राजू ने कहा की वो मेरी पत्नी है,जब वो गलती करेंगी तो मैं उसको गाली दूं या मारू तुमको क्या दिक्कत है । तभी प्रेमी चंदन ने राजू को धमकाते हुए कहा की आज के बाद तुमने रूबी को डाटा या मारा तो मैं तुमको गोली मार दूंगा । जब इस बात का विरोध किया तो हमलोगों की आपस में झगड़ा हुआ और उसने मुझे चाकू मार दी ।

प्रेमिका रूबी नौ महीने की है गर्भवती

मृत प्रेमी चंदन सोमवार की रात अपनी गर्भवती शादीशुदा प्रेमिका से मिलने आया था । जहां पति और ससुराल वालों ने मिलकर उसे बंधक बना लिया गया,उसके बाद उसकी लाठी–डंडे से उसकी निर्मम हत्या कर दी गई । मृत चंदन के शरीर पर ललाट,हाथ,पैर एवं पीठ पर लाल व काला पड़े जख्मों का निशान पाया गया है । रूबी देवी का एक ढाई साल का बेटा सियामुनी है,जबकि वो नौ महीने की गर्भवती है । चार से पांच दिनों में बच्चे को जन्म देने वाली है । मृत चंदन उत्तर प्रदेश के बनारस में आचार्य के साथ रहकर पूजा–पाठ कराने का काम करता था ।छुट्टी के दौरान जब भी गांव आता,तभी वो अपने प्रेमिका के ससुराल रात में मिलने के लिए जाता । मां की आशिकी के चक्कर में एक ढाई का मासूम की आगे की जिंदगी अब जेल में गुजारना पड़ेगा, क्योंकि ढाई वर्षीय सियामुनी अपने मां के बगैर नहीं रह सकता ।

Uma Shankar
Next Story
Share it