Top
Begin typing your search...

छपरा मामला : DGP ने कहा- किसी भी कीमत पर दोषियों को नहीं बख्शेंगे, नहीं होगी सीबीआई जांच

मालूम हो कि मंगलवार की रात अपराधियों के साथ हुई मुठभेड़ में एसआईटी के सब-इंस्पेक्टर मिथिलेश कुमार और सिपाही फारूक अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

छपरा मामला : DGP ने कहा- किसी भी कीमत पर दोषियों को नहीं बख्शेंगे, नहीं होगी सीबीआई जांच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

छपरा (शिवा नंद गिरि/राजू जयसवाल) : बिहार के छपरा में दो पुलिसवालों की हत्या पुलिस महकमे में खलबली मच गई है।डीजीपी गलतेश्वर पांडेय ने कहा है कि पुलिसकर्मियों की मौत का बदला बहुत जल्द लिया जाएगा।सीबीआई जांच से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस खुद इस कांड का उद्भेदन कर इसमें शामिल अपराधियों को जल्द गिरफ्तार करेगी।. सब-इंस्पेक्टर और कांस्टेबल की हत्या के बाद बुधवार को बिहार पुलिस के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय छपरा पहुंचे और दोनों शहीदों को श्रद्धांजलि दी. पुलिसकर्मियों की शहादत को डीजीपी ने अपराधियों की कायराना हरकत बताया. पांडेय ने कहा कि इस मामले में हर एंगल से जांच होगी और दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा. डीजीपी से जब इस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश करने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने इस मांग को नकार दिया.

बिहार पुलिस ही करेगी जांच

डीजीपी ने कहा सीबीआई जांच से इनकार करते हुए कहा कि बिहार पुलिस इस मामले की जांच करने में खुद सक्षम है. हालांकि परिजन गुस्से में आ गए और उनकी डीजीपी से नोंक-झोंक हो गई. ये वाकया अंतिम सलामी देते समय हुआ. इस दौरान एसआई मिथिलेश कुमार के परिजन सीबीआई जांच की मांग पर अड़े रहे लेकिन डीजीपी ने उनकी मांग को ठुकरा दिया.

हथियारों का दुरुपयोग करने पर रद्द होंगे लाइसेंस

डीजीपी पांडेय ने कहा कि जितने भी लाइसेंसधारी अपने शस्त्रों का दुरुपयोग करते हैं उनका लाइसेंस रद्द होगा. इससे पहले बुधवार को डीजीपी शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने छपरा पहुंचे. गुप्तेश्वर पांडेय ने पुलिस लाइन में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी साथ ही पुलिसकर्मियों के साथ इस मामले को लेकर बैठक भी करेंगे. जानकारी के मुताबिक इस बैठक में सारण के एसपी समेत तमाम अधिकारी मौजूद रहेंगे.

सदमे में है पुलिस महकमा

सारण पुलिस दरोगा मिथिलेश कुमार शाह और सिपाही फारूक अहमद की हत्या के बाद सदमे में है लेकिन पुलिस की एक टीम इस मामले के खुलासे में भी जुट गई है. मालूम हो कि मंगलवार की रात अपराधियों के साथ हुई मुठभेड़ में एसआईटी के सब-इंस्पेक्टर मिथिलेश कुमार और सिपाही फारूक अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मुठभेड़ की ये घटना सारण के मढौरा में हुई थी. इस घटना में एक अन्य पुलिसकर्मी भी घायल है जिसका इलाज पटना में हो रहा है.

suresh
Next Story
Share it