Begin typing your search...

समस्तीपुर में इंजीनियरिंग छात्र की सड़क किनारे मिली लाश, परिजनों को हत्या की आशंका

समस्तीपुर जिले के मुफ्स्लिल थाना क्षेत्र के आजादनगर मुहल्ले में इंजीनियरिंग के एक छात्र की जहर खिला हत्या कर दी गयी।

समस्तीपुर में इंजीनियरिंग छात्र की सड़क किनारे मिली लाश, परिजनों को हत्या की आशंका
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार से हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। यहां समस्तीपुर जिले के मुफ्स्लिल थाना क्षेत्र के आजादनगर मुहल्ले में इंजीनियरिंग के एक छात्र की जहर खिला हत्या कर दी गयी। बता दें कि होली को लेकर छात्र बीते रविवार शाम करीब सात बजे अहमदाबाद बरौनी एक्सप्रेस से समस्तीपुर स्टेशन उतरा था, लेकिन घर नहीं पहुंचा। सुबह में आजादनगर में सड़क किनारे एक खेत में उसकी लाश मिली। उसके मुंह से झाग निकल रहा था। इससे आशंका जतायी जा रही है कि जहर खिलाकर उसकी हत्या की गयी है।

इस मामले की सूचना मिलते ही मुफस्सिल थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और जांच में जुट गयी। मिली जानकारी के अनुसार, मृतक छात्र आशीष कुमार शहर के बारहपत्थर मुहल्ले के शंकर महतो का पुत्र था। वह इसी साल भोपाल में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने गया था। जहां से होली में घर के लिए लौटा था। उसकी मां ने रोते हुए बताया कि उसके पुत्र की जहर खिलाकर हत्या की गयी है। वे छात्र के दोस्तों पर ही हत्या करने का आरोप लगा रही थी।

वहीं मृतक छात्र के भाई सूरज ने बताया कि आशीष ने शाम करीब सात बजे मोबाइल पर कॉल कर समस्तीपुर स्टेशन पर पहुंचने की सूचना देते हुए कहा कि रास्ते में सारा पैसा खत्म हो गया है। उसने भाई से पैसे भेजने को कहा। कुछ देर बाद छात्र ने अपनी मां से भी बात की जिसमें बताया कि वह जल्द ही घर आ रहा है। लेकिन वह घर नहीं पहुंचा। देर तक नहीं पहुंचे पर परिजन उसे खोजने निकले। लेकिन उसका पता नहीं चला। भाई ने बताया कि सुबह करीब नौ बजे उसे मोबाइल पर भाई की लाश सड़क किनारे पड़े होने की सूचना मिली। सूचना पर पहुंचा तो भाई की लाश देखी। उसके बाद पुलिस को मामले से अवगत कराया।

मुफस्सिल थाना अध्यक्ष प्रवीण मिश्रा ने बताया कि सूचना पर पहुंची पुलिस ने छात्र के लाश के पास से बैग बरामद किया जिसमें कपड़ा के अलावा पर्स से कुछ पैसा मिला। लेकिन उसका मोबाइल नहीं मिला। उन्होंने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गयी है। छात्र की मोबाइल का सीडीआर निकालने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी। जिससे पता चले कि समस्तीपुर आने के बाद उसकी किस किससे बात हुई।

Sakshi
Next Story
Share it