Begin typing your search...

अभिवंचित वर्ग की बालिकाओं का नामांकन कस्तूरबा गाॅधी बालिका विद्यालय में कराएं

अभिवंचित वर्ग की बालिकाओं का नामांकन कस्तूरबा गाॅधी बालिका विद्यालय में कराएं
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंगेर। कस्तूरबा गाॅधी बालिका विद्यालय में विषम परिस्थिति में जीवन यापन करने वाली अभिवंचित वर्ग की बालिकाओं के लिए आवासीय विद्यालय के माध्यम से गुणवत्तपूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराया जाता है। इस विद्यालय में मुख्य रूप से ऐसी बालिकाओं पर ध्यान दिया जाता है, जो 11 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की है तथा 05 वर्ग कक्षा तक पढ़ी है किन्तु आगे की शिक्षा के लिए आर्थिक व्यवस्था नहीं है। साथ ही ऐसी बालिकाये जो वर्ग 06 से +2 कक्षा तक पढ़ना चाहती है किन्तु ऐसा नहीं कर पा रही है।

इस विद्यालय छात्रावास में छात्राओं को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ-साथ आवासीय व्यवस्था का लाभ यथा आवासन, भोजन, पोषाक, किताब 100 रुपये प्रति माह की दर से छात्रवृति, समूह बीमा इत्यादि के लाभ से लाभांवित होती है। बालिकाओं का चयन प्रखंड के अंतर्गत प्रत्येक पंचायत से किया जाता है किन्तु अनुसूचित जाति/जनजाति/पिछड़ा वर्ग/ अति पिछड़ा वर्ग/ अल्पसंख्यक बाहुल्य पंचायत को प्राथमिकता देते हुए केजीभीवी की वाडेन एवं संचालक द्वारा नामांकन किया जाता है।

इस हेतु नामाकंन अभियान/ प्रवेशोत्सव इत्यादि के माध्यम से एवं जनप्रतिनिधि के सहयोग से प्रत्येक वर्ष माह अप्रैल से सितम्बर तक नामाकंन कार्य कराया जाता है। अनुसूचित जाति/जनजाति/अत्यंत पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक समुदाय की 75 प्रतिशत बालिकाओं तथा 25 प्रतिशत गरीबी रेखा से नीचे के परिवार की बालिकाओं को कस्तुरबा गाॅधी बालिका विद्यालय में प्राथमिकता के आधार पर नामांकन लिया जाता है, जिलांतर्गत 10 केजीभीवी में कुल नामाकंन लक्ष्य 1100 के विरूद्ध अनुसूचित जाति एवं जनजाति कोटि की कुल 615 छात्राएं नामांकित है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it