Begin typing your search...

बिहार में चलती ट्रेन के आगे दोस्त को दिया धक्का, कटकर हुई दर्दनाक मौत

सहरसा जिले के सौरबाजार थाना क्षेत्र के खजूरी गांव समीप एक युवक को दोस्त ने चलती ट्रेन के आगे शुक्रवार की दोपहर धकेल कर उसकी जान ले ली...

बिहार में चलती ट्रेन के आगे दोस्त को दिया धक्का, कटकर हुई दर्दनाक मौत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार से दिल दहला देने वाली खार सामने आई है| यहां सहरसा जिले के सौरबाजार थाना क्षेत्र के खजूरी गांव समीप एक युवक को दोस्त ने चलती ट्रेन के आगे शुक्रवार की दोपहर धकेल कर उसकी जान ले ली। ट्रेन पूर्णिया कोर्ट से सहरसा की तरफ आ रही थी। मृतक सुहथ पंचायत के अर्रहा गांव निवासी अमरेन्द्र यादव का पुत्र रोशन कुमार (21) है। पूर्णिया कोर्ट से ट्रेन सहरसा की तरफ आ रही थी।

परिजन के मुताबिक शुक्रवार सुबह 10 बजे चन्दौर पूर्वी पंचायत के सखुआ गांव निवासी नन्हें कुमार उर्फ प्रिंस अपनी पल्सर बाइक से रोशन को लेने घर आया था। दोनों गांव से करीब 15 किलोमीटर दूर बैजनाथपुर रेलवे स्टेशन से दो किलोमीटर पूरब खजुरी गांव के समीप बाइक लगाकर ट्रैक पर बैठकर घंटों बात की। जब ट्रेन को आते देखा तो दोनों पटरी के बगल में खड़े हो गये। ट्रेन के नजदीक आने पर नन्हें ने रोशन को चलती ट्रेन के आगे धकेल दिया। जिससे रोशन की मौके पर कटकर मौत हो गई। घटना को अंजाम देकर नन्हें बाइक से भाग गया।

परिजनों का कहना है कि यह सब करतूत वहां रेलवे किनारे पशु के लिए चारा काट रहीं कुछ महिलाएं देख रही थी। ट्रेन के गुजरने के बाद महिलाओं के हल्ला मचाने पर आसपास के लोगों की भीड़ देखने के लिए जमा हो गई। सूचना पर पहुंची बैजनाथपुर ओपी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। परिजन के बयान और प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर कारवाई शुरू कर दी है। बैजनाथपुर ओपी अध्यक्ष मो. मजबूद्धीन अहमद ने बताया कि परिजनों और प्रत्यक्षदर्शियों के द्वारा दी गयी जानकारी से मामला हत्या का प्रतीत होता है। घटना की हर पहलू की जांच की जाएगी और दोषी गिरफ्त में आएगा।

Sakshi
Next Story
Share it