Begin typing your search...

मुख्यमंत्री जनता दरबार में 160 लोगों की समस्याएं सुनी और संबंधित विभागों को दिए आवश्यक कार्रवाई के निर्देश

मुख्यमंत्री जनता दरबार में 160 लोगों की समस्याएं सुनी और संबंधित विभागों को दिए आवश्यक कार्रवाई के निर्देश
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कुमार कृष्णन

पटना।मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार आज 4 देशरत्न मार्ग स्थित मुख्यमंत्री सचिवालय परिसर में आयोजित जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में शामिल हुए। 'जनता के दरबार में मुख्यमंत्री' कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे 160 लोगों की समस्याओं को सुना और संबंधित विभागों के अधिकारियों को समाधान के लिए समुचित कार्रवाई के निर्देश दिए। 'जनता के दरबार में मुख्यमंत्री' कार्यक्रम में सामान्य प्रशासन विभाग, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, वित्त विभाग, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग, अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग, सूचना प्रावैधिकी विभाग, कला संस्कृति एवं युवा विभाग, श्रम संसाधन विभाग तथा आपदा प्रबंधन विभाग के मामलों पर सुनवाई हुयी।

जनता दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में बक्सर से आये एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री से कहा कि भोजपुरी गाने और फिल्मों में अश्लीलता रोकने की जरूरत है। फरियादी ने मुख्यमंत्री से यह भी कहा कि भोजपुरी गाने और फिल्मों के नाम पर खुलेआम अश्लीलता परोसी जा रही है। इस पर मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को इस पर समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। भागलपुर से आयी एक महिला ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि आंगनबाड़ी सेविका के चयन में गड़बड़ी की जा रही है। वहीं एक दूसरी महिला ने मुख्यमंत्री से फरियाद करते हुए कहा कि उनके पति की मौत कोरोना से हो गई है। सरकार की तरफ से जो देय राशि है वो उन्हें अब तक नहीं मिल पायी है।

मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग से कहा कि जितने लोगों को सहायता राशि नहीं मिली है उनलोगों को शीघ्र इसका लाभ दिलाएं। एक लड़की ने मुख्यमंत्री से फरियाद करते हुए कहा कि हमारे पिता शिक्षक थे। 2019 में ही उनका निधन हो गया। लेकिन उनकी जगह अनुकंपा पर हमें नौकरी नहीं दी जा रही। लड़की की गुहार पर मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को इस मामले की जांचकर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। औरंगाबाद के एक शख्स ने शिकायत करते हुए कहा कि कोटवारा उत्क्रमित मध्य विद्यालय की जमीन को अतिक्रमित कर स्कूल में दबंगों ने ताला जड़ दिया है तो वहीं देसरी, वैशाली के एक व्यक्ति ने मांग करते हुए कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देसरी को 30 बेड का स्वास्थ्य केंद्र बनाने की कृपा करें। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को यथोचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

सिवान के एक शख्स ने आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य कार्ड नहीं बनने की शिकायत की। वहीं आरा के एक शख्स ने दारोगा बहाली में मेरिट से ज्यादा अंक आने के बावजूद भी फाइनल लिस्ट में नाम न रहने की शिकायत की। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को इसकी जांचकर समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। वहीं शिवहर के एक युवक ने दिव्यांगजन का पेंशन बढ़ाने तथा पूर्वी चंपारण की एक महिला ने विधवा पेंशन बंद होने की शिकायत की। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को यथोचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। नालंदा के एक युवक ने मुख्यमंत्री निःशक्त जनशिक्षा ऋण योजना के अंतर्गत ऋण माफी के संबंध में अपनी मांग रखी।

वहीं बिहटा, पटना के रजनीश कुमार ने बिक्रम एन0एच0 के किनारे स्थित ट्रामा सेंटर शुरु करने में भूमि समस्या और निर्माण कार्य में आ रहे अवरोध के संबंध में शिकायत की। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को इस पर यथोचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद, शिक्षा मंत्री श्री विजय कुमार चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री श्री मंगल पांडे, समाज कल्याण मंत्री श्री मदन सहनी, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण मंत्री श्री संतोष कुमार सुमन, विज्ञान एवं प्रावैधिकी मंत्री श्री सुमित कुमार सिंह, सूचना प्रावैधिकी सह श्रम संसाधन मंत्री श्री जिवेश कुमार, कला संस्कृति एवं युवा मंत्री श्री आलोक रंजन, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री दीपक कुमार, मुख्य सचिव श्री त्रिपुरारी शरण, पुलिस महानिर्देशक श्री एस0के0 सिंघल, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव श्री अनुपम कुमार, संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव/प्रधान सचिव/सचिव, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी श्री गोपाल सिंह, पटना के जिलाधिकारी श्री चंद्रशेखर सिंह तथा वरीय पुलिस अधीक्षक श्री उपेंद्र शर्मा उपस्थित थे।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it