Begin typing your search...

बिहार में चुनाव से पहले बड़ा उलटफेर? महागठबंधन से अलग हुए जीतनराम मांझी

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले महागठबंधन को बड़ा झटका लगा है.

बिहार में चुनाव से पहले बड़ा उलटफेर? महागठबंधन से अलग हुए जीतनराम मांझी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले महागठबंधन को बड़ा झटका लगा है. महागठबंधन में शामिल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा ने गुरुवार को गठबंधन से निकलने का फैसला ले लिया.

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की अध्यक्षता में उनके आवास पर कोर कमेटी की बैठक हुई. बैठक में यह फैसला लिया गया कि हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा अब महा गठबंधन का हिस्सा नहीं रहेगी.

पार्टी के एमएलसी और जीतन राम मांझी के बेटे संतोष सुमन ने कहा, "कोर समिति की बैठक में फैसला लिया गया है कि महागठबंधन से हमारा दल बाहर हो जाएगा. हम लोग लगातार मांग कर रहे थे कि महागठबंधन को सही तरीके से चलाने के लिए कोआर्डिनेशन कमेटी बनाई जाए मगर तेजस्वी यादव तानाशाह की तरह महागठबंधन पर अपने फैसले थोप रहे थे."

संतोष सुमन ने कहा कि तेजस्वी यादव एकतरफा महागठबंधन को लेकर फैसले ले रहे थे और छोटे दलों को तवज्जो नहीं दी जा रही थी. इस बात से उनके पिता जीतन राम माझी काफी आहत हैं और आखिरकार फैसला लिया कि अब हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा महागठबंधन का हिस्सा नहीं रहेगी.

संतोष सुमन ने कहा, "हमारी लगातार मांग रही है कि महागठबंधन को चलाने के लिए कोआर्डिनेशन कमेटी बनाई जाए मगर तेजस्वी यादव ने इसको लेकर कोई भी पहल नहीं की. तेजस्वी तानाशाह की तरह बर्ताव कर रहे थे जिससे हमारा महागठबंधन में रहना मुश्किल हो गया था."

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के भविष्य के बारे में बात करते हुए संतोष कुमार ने कहा कि पार्टी के सभी विकल्प खुले हुए हैं. जानकारी के मुताबिक हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा जल्द जनता दल यूनाइटेड के साथ गठबंधन करने जा रही है.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it