Top
Begin typing your search...

सौ कमांडो भाईयों ने कराई शहीद कमांडो की बहन की विदाई, हथेलियां जमीन पर रखकर किया विदा

ज्योति के पिता ने कहा- शादी में गरुड़ कमांडो ने बेटे की कमी खलने नहीं दी

सौ कमांडो भाईयों ने कराई शहीद कमांडो की बहन की विदाई, हथेलियां जमीन पर रखकर किया विदा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कश्मीर के बांदीपुरा में शहीद कमांडो ज्योति प्रकाश निराला की बहन की शादी में गरूड़ कमांडो की टीम पहुंची। इस शादी में एक बहन को 'सौ भाइयों' ने मिलकर विदा किया। वायुसेना जवानों ने इस शादी में बहन को उसके शहीद भाई निराला की कमी महसूस नहीं होने दी।

कश्मीर के बांदीपुरा में शहीद गरुड़ कमांडो ज्योति प्रकाश निराला की बहन शशि कला को गांव की परंपरा के अनुसार वायुसेना के जवानों ने हथेलियों पर रख विदा किया। इस शादी में देश की शान माने जाने वाली वायुसेना के आईएएफ गरुड़ कमांडो की टीम ने न सिर्फ बढ़चढ़कर हिस्सा लिया, बल्कि कई स्नेहिल क्षणों से सबको भावुक कर दिया। शहीद निराला के पिता तेजनारायण सिंह ने गरुड़ कमांडो की इस टीम के प्रति अपना आभार जताते हुए कहा कि मेरे घर पहुंचे जवान मेरे निराला जैसे ही थे। शशिकला की शादी पाली रोड डेहरी निवासी उमाशंकर यादव के पुत्र सुजीत कुमार के साथ हुई। शादी के पूरे आयोजन में वायुसेना के जवानों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया।

बता दें कि निराला चार बहनों के इकलौते भाई और परिवार का इकलौता सहारा थे। 26 जनवरी 2018 को गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने निराला को मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया था।

Special Coverage News
Next Story
Share it