Begin typing your search...

जन्म और मृत्यु निबंधन कार्य के शत प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति के लिए चिकित्सा संस्थानों का निरीक्षण

जन्म और मृत्यु निबंधन कार्य के शत प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति के लिए चिकित्सा संस्थानों का निरीक्षण
X

फाइल फोटो

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंगेर।जिले में जन्म और मृत्यु निबंधन कार्य के शत प्रतिशत लक्ष्य की प्राप्ति के लिए जिला सांख्यिकी पदाधिकारी श्री राकेश कुमार, अवर सांख्यिकी पदाधिकारी श्री मनोज कुमार ने वैसे निजी चिकित्सा संस्थानों का दौरा किया। जहां जन्म और मृत्यु की घटना घटित होती है। जन्म और मृत्यु अधिनियम, 1969 के तहत जहां जन्म और मृत्यु की घटना घटित होती है वहां के प्रबंधन द्वारा इन घटनाओं की सूचना संबंधित क्षेत्र के रजिस्ट्रार (जन्म और मृत्यु) को अविलंब उपलब्ध कराया जाना अनिवार्य है ताकि प्रत्येक जन्म और मृत्यु का निबंधन किया जा सके।

इस क्रम में सेवायान हॉस्पिटल, पुष्कल मेडिकेयर, गोमती गोयनका मातृ सदन एवं समर्पण हॉस्पिटल का निरीक्षण किया गया। पाया गया कि लम्बे समय से इन अस्पतालों द्वारा जन्म और मृत्यु की घटना की सूचना व्यवस्थित रूप से समय पर नगर निगम मुंगेर को नहीं भेजी जा रही है जिस कारण जिला अंतर्गत शत प्रतिशत निबंधन लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हो रही है। वर्तमान में निबंधन कार्य सीआरसी पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन किया जा रहा है, निजी अस्पतालों को ऑनलाइन रिपोर्टिंग करने के संबंध में विस्तार से बताया गया ताकि मृतको एवं जन्म लेने वाले शिशु के परिजनों को तत्काल जन्म प्रमाण पत्र की प्राप्ति हो सकेगी। इसी क्रम में जिला अंतर्गत अन्य वैसे सभी निजी चिकित्सा संस्थानों जहां जन्म और मृत्यु की घटना घटित होती है का निरीक्षण कर निजी संस्थानों का तत्काल ऑनलाइन रिपोर्टिंग हेतु प्रेरित किया जाएगा।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it