Begin typing your search...

जुमई में शराब पीते JDU के पंचायत अध्यक्ष हुए गिरफ्तार, शराब पीने की बताई अनोखी वजह

जदयू पंचायत अध्यक्ष का नाम कपिल देव शराब पीते हुए पुलिस के हत्थे चढ़े है। उनके साथ तीन अन्य लोगों को भी शराब पीते हुए पुलिस ने पकड़ा है। बताया जाता है कि जेडीयू नेता कैलाश कुमार दास की बेटी का जन्‍मदिन था। इसी मौके पर पार्टी का आयोजन किया गया था।

जुमई में शराब पीते JDU के पंचायत अध्यक्ष हुए गिरफ्तार, शराब पीने की बताई अनोखी वजह
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Bihar News : बिहार में शराबबंदी है लेकिन आए दिन शराब बिकने व पीने से जुडी खबरे आती ही रहती है| शराबबंदी वाले बिहार में पीने-पिलाने का दौर बदस्तूर जारी है। यहां तक कि नीतीश कुमार की पार्टी के लोग भी गाहे-बगाहे शराब पीते पकड़ा रहे हैं। बीते बुधवार को समस्तीपुर में पत्नी की शिकायत पर शराब पीते जदयू के नेता को पकड़ा गया था। अब जमुई में जदयू के पंचायत अध्यक्ष को शराब पीते हुए गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद पंचायत अध्यक्ष ने पीने का ऐसा कारण बताया कि पुलिस भी हैरान रह गई।

जदयू पंचायत अध्यक्ष का नाम कपिल देव शराब पीते हुए पुलिस के हत्थे चढ़े है। उनके साथ तीन अन्य लोगों को भी शराब पीते हुए पुलिस ने पकड़ा है। बताया जाता है कि जेडीयू नेता कैलाश कुमार दास की बेटी का जन्‍मदिन था। इसी मौके पर पार्टी का आयोजन किया गया था।

इसके बाद छापेमारी में चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। इस पार्टी में जेडीयू पंचायत अध्‍यक्ष कपिल देव प्रसाद भी आए। इनके शराब पीने की सूचना उत्‍पाद विभाग को मिली। गिरफ्तारी के बाद कपिल देव प्रसाद अपनी ही पार्टी के नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भड़क गए। उन्होनें शराबबंदी को पूरी तरह से फेल बताया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कपिलदेव ने कहा कि मेरी गिरफ्तारी से पहले इसकी जांच की जाए कि शराबबंदी को लेकर मैंने कितना आवेदन दिया है। लोकशिकायत में हम शराबबंदी के खिलाफ कितना शिकायत किये हैं इसकी टोटल जांच की जाए। नीतीश कुमार सीबीआई जांच बैठा दें।

शराब पीने की अनोखी वजह

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पंचायत अध्यक्ष से जब पूछा गया कि आवेदन दिया था तो शराब क्यों पी? इस पर कहा कि हमेशा पुलिस को फोन करते थे तो उसको कुछ नहीं मिलता था। शराब मिल रहा है, इसको साबित करने के लिए पी थी। पुलिस को दिखाना था कि देखो शराब मिलता है कि नहीं मिलता है। अब पी ली तो हमें ही दबोच लिया है।

पुलिस के अनुसार जिन लोगों की गिरफ्तारी की गई है, उनमें सोनो पंचायत के बुझायत गांव निवासी कैलाश कुमार दास, उपेंद्र दास और बलथर गांव के रहने वाले सुरेश रविदास के साथ लालपुर निवासी और चरका पत्थर थाना क्षेत्र के बोझाइत गांव के जदयू प्रखंड अध्यक्ष कपिल देव रविदास शामिल हैं।

Sakshi
Next Story
Share it