पटना

छपरा नगर निगम के मेयर के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिर गया

Special Coverage News
4 Sep 2019 1:07 PM GMT
छपरा नगर निगम के मेयर के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिर गया
x
इसके बाद एक-एक करके नगर निगम की मेयर प्रिया सिंह ने सारे सवालों का जवाब दिया. इसके बाद अध्यक्ष ने मत विभाजन की अनुमति दी.

छपरा( राजू जायसवाल)

छपरा नगर निगम की मेयर प्रिया सिंह पर पार्षदों द्वारा लाया गया अविश्वास प्रस्ताव गिर गया. बुधवार को नगर निगम में अविश्वास प्रस्ताव को लेकर विशेष बैठक का आयोजन किया गया. जिसमें मेयर प्रिया सिंह के पक्ष में 35 मत पड़े तो वहीं विपक्षी पार्षद सदन से वाकआउट कर गए. बहुमत मिलने के बाद मेयर अपने पद पर बरकरार रहेगी.पूर्व निर्धारित समय बुधवार को दोपहर 12:00 बजे से वार्ड पार्षद नगर निगम पहुंचने लगे. इसके बाद में डिप्टी मेयर समेत तमाम अधिकारी पदाधिकारी सदन में पहुंचे. सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो वार्ड पार्षद उदय प्रताप सिंह को बोर्ड का अध्यक्ष बनाया गया. उदय प्रताप सिंह की अध्यक्षता में सारी प्रोसिडिंग की गई.

बैठक शुरू होते ही कुछ विपक्षी पार्षद वर्क आउट कर गए तो बैठक शुरू होने के कुछ देर बाद ही डिप्टी मेयर अमितांजली सोनी वार्ड पार्षद रमाकांत सिंह डब्लू, मंजू देवी, रजिया सुल्तान समेत 8 वार्ड पार्षद सदन से वाकआउट कर गए.




इस दौरान सदन में गहमागहमी जारी रही. बचे हुए पार्षदों ने निगम सात बिंदुओं पर ताबड़तोड़ सवाल किए. जिसमें नगर निगम में भ्रष्टाचार, सफाई शौचालय निर्माण, चापाकल, पेयजल, एलईडी लाइट आदि को लेकर तमाम बिंदुओं पर काफी सवाल-जवाब हुए और काफी देर तक चर्चा हुई. इसके बाद एक-एक करके नगर निगम की मेयर प्रिया सिंह ने सारे सवालों का जवाब दिया. इसके बाद अध्यक्ष ने मत विभाजन की अनुमति दी.




इसके बाद 35 पार्षदों ने मेयर के पक्ष में मत दिया. जिससे मेयर को दोबारा बहुमत हासिल हो गया. हालांकि वार्ड 14 के पार्षद संजीव रंजन जेल में बंद होने कारण मत नहीं दे सके, कोर्ट के आदेश के बाद भी एस्कॉर्ट के अभाव में उन्हें नगर निगम मैं नहीं लाया जा सका.

बहुमत मिलने के बाद मेयर सदन से बाहर निकलीं तो सबसे पहले उनके पति मिंटू सिंह ने उन्हें माला पहना कर उनका स्वागत किया. साथ ही बड़ी संख्या उनके समर्थक प्रिया सिंह के पक्ष में नारे लगा रहे थे.

सदन से बाहर निकलने के बाद प्रिया सिंह ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव गिर गया है. सब शहर के विकास के लिए काम किया जाएगा. जो भी हो सकेगा अपने स्तर से किया जाएगा. लोगों की काफी उमीदें हैं. उनकी प्राथमिकता लोगों की उम्मीदों पर खड़ा उतरना होगा.

6 को डिप्टी मेयर पर अविश्वास प्रस्ताव

अब 6 सितंबर को को छपरा नगर निगम की डिप्टी मेयर अमित अंजली सोनी पर लगे अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की जाएगी. देखने वाली बात होगी कि डिप्टी मेयर अपनी कुर्सी कैसे बचा पाती हैं.

Tags
Special Coverage News

Special Coverage News

    Next Story