पटना

जिये अब तो विकास वैभव ,मनु महाराज सरीखे अधिकारी बैठेंगे बेगूसराय में, सरकार ने जिले को राज्य का 12वां रेंज बनाया

Special Coverage News
12 Aug 2019 10:39 AM GMT
जिये अब तो विकास वैभव ,मनु महाराज सरीखे  अधिकारी बैठेंगे बेगूसराय में, सरकार ने जिले को  राज्य का 12वां रेंज बनाया
x

ब्यूरो रिपोर्ट

पटना। बिहार में बढ़ते अपराध को रोकने तथा कानोकान व्यवस्था पर नियंत्रण के लिए स।आर्ट पोलिसिंग के लिए सरकार ने अपनी लिए गए निरनागकन को अमलीजामा पहनाने में जुट गया है। के लिए सर बिहार में पुलिसिंग की बड़ी सर्जरी हो गई है। सरकार पुलिस जोन को समाप्त करते हुए पहले से विधमान 11 रेंजों में एक बेगूसराय का इजाफा की है।

बेगूसराय और खगड़िया मिलाकर एक नया रेंज तैयार किया गया है। मतलब यह कि अब बेगूसराय में विकास वैभव और मनु महाराज सरीखे डीआईजी बैठेंगे। नई व्यवस्था के लागू होने के बाद मात्र एक रेंज रह गई है और ज़िले के पुलिस कप्तान रेंज को रिपोर्ट करेंगे और रेंज के अधिकारी सीधे पुलिस मुख्यालय से जुड़े रहेंगे।

दरअसल, सूबे में सभी पुलिस प्रक्षेत्र (जोन) समाप्त कर दिए गये हैं। इनकी जगह सिर्फ रेंज ही रहेगा। दोनों स्तर पर पुलिस अधिकारियों के काम एक समान होने के चलते सिर्फ एक ही पद रखा गया है।

बिहार में अभी शाहाबाद (डेहरी ऑन सोन), पटना, मगध (गया), मुंगेर, भागलपुर, कोसी (सहरसा), पूर्णिया, दरभंगा, तिरहुत (मुजफ्फरपुर), चंपारण (बेतिया) और सारण (छपरा) कुल 11 रेंज हैं।जोन के समाप्त होने के बाद रेंज की संख्या 11 से बढ़कर 12 की गई है। बेगूसराय और खगड़िया जिले को मिलाकर एक नया रेंज बनाया गया है। बिहार पुलिस चार जोन में बंटा था। पटना, भागलपुर, कोसी (दरभंगा) और तिरहुत (मुजफ्फरपुर)। यहां पहले से रेंज भी है। जोन में आईजी और रेंज में डीआईजी बैठते हैं। बदलाव के तहत यहां सिर्फ रेंज रह जाएंगे।

IG या DIG रैंक के अफसरों की होगी पोस्टिंग, 5 रेंज ज्यादा संवेदनशील

नई व्यवस्था में सरकार वहां आईजी या फिर डीआईजी रैंक के अफसर को तैनात कर सकती है। पुलिस मुख्यालय के आला अधिकारी के मुताबिक पांच रेंज जो पुलिसिंग के लिहाज से ज्यादा महत्वपूर्ण होंगे, वहां आईजी पदस्थापित किए जाएंगे। आईजी वाले रेंज पटना, गया, भागलपुर, मुजफ्फरपुर और पूर्णिया होंगे। बाकी बचे सात रेंज में डीआईजी की तैनाती होगी।

Tags
Special Coverage News

Special Coverage News

    Next Story