Begin typing your search...

बेगूसराय में रस्‍सी से बांधकर घसीटते हुए ले गए युवक का शव, बिहार पुलिस का अमानवीय चेहरा आया सामने

बेगूसराय में रस्‍सी से बांधकर घसीटते हुए ले गए युवक का शव, बिहार पुलिस का अमानवीय चेहरा आया सामने
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार के बेगूसराय से इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां पुलिस का अमानवीय चेहरा देखने को मिला है। लाखो ओपी थाना पुलिस ने एक अज्ञात युवक की मौत के बाद उसके शव के पैरों में रस्सी बांधकर उसे सड़क पर घसीटकर ले गई।

यही नहीं अस्पताल पहुंचने के बाद भी शव को रस्सी से ही खींचकर पोस्टमार्टम रूम में भेजा गया। एक तरफ जहां मौत के बाद इंसानों के अंतिम संस्कार करने की परंपरा है। वहीं, पुलिस ने शव के साथ जानवरों से भी बदतर सलूक किया। जब पुलिस शव को अमानवीय तरीके से घसीट रही थी, तब मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ मौजूद थी। यह मामला बुधवार का है।

जानकारी के मुताबिक 27 जुवलाई को लाखों गांव स्थित एनएच-31 के किनारे गड्ढे में रखे पाइप के अंदर एक अज्ञात युवक की लाश मिली। सूचना मिले पर पुलिस मौके पर पहुंची। शव से बहुत दुर्गंध आ रही थी। इसलिए उसे निकालने के लिए पुलिस ने सफाईकर्मी को बुलाया। पुलिस ने शव को सम्मान से निकालने के बजाय उसके पैर में रस्सी बांध दी और फिर पाइप से खींचकर बाहर निकाला।

फिर उसे घसीटते हुए सैकड़ों फीट दूर तक लेकर आया गया। हाईवे पर भी कई फीट तक शव को रस्सी से खींचकर घसीटा गया। इसके बाद ट्रैक्टर ट्रॉली में डालकर उसे सदर अस्पताल पहुंचाया गया। अस्पताल में भी शव को घसीटते हुए ही पोस्टमार्टम रूम में ले जाया गया। इस दौरान वहां मौजूद किसी शख्स ने अपने मोबाइल कैमरे में यह रिकॉर्ड कर लिया। फिलहाल पुलिस शव की पहचान में जुटी है।

मगर पुलिस की ऐसी अमानवीय कार्यशैली और गैरजिम्मेदाराना कृत्य पर गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं। मौत के बाद शव के साथ ऐसी बर्बरता की जाएगी यह किसी ने सोचा नहीं था। एसपी को इस बारे में सूचना दी गई है। उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it