Begin typing your search...

2 बच्चों को कुएं में फेंककर मां भी कूदी, पहले हाथों से पानी पिलाया, फिर एक-एक कर दोनों को खुद ही नीचे फेंका, तीनों की मौत

महिला के दोनों बच्चों के साथ कुएं में कूदने की घटना का CCTV फुटेज सामने आया है

2 बच्चों को कुएं में फेंककर मां भी कूदी, पहले हाथों से पानी पिलाया, फिर एक-एक कर दोनों को खुद ही नीचे फेंका, तीनों की मौत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

पटना के बिक्रम इलाके में रविवार दोपहर दिल दहला देने वाली घटना देखने को मिली। एक महिला ने अपने दो बच्चों को कुएं में फेंकने के बाद खुद भी कूदकर आत्महत्या कर ली। तीनों की मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना बिक्रम थाना पुलिस को दी। थाना प्रभारी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और फिर महिला और दोनों बच्चों के शवों को कुएं से निकाला गया।

CCTV फुटेज से मिली दहलाने वाली तस्वीरें

महिला के दोनों बच्चों के साथ कुएं में कूदने की घटना का CCTV फुटेज सामने आया है। CCTV फुटेज से सामने आई तस्वीरें दिल दहला देने वाली हैं। जानकारी मिलते ही कुएं के पास गांव के सैकड़ों लोग जमा हो गए। लोग शव को पहचानने की कोशिश करने लगे। इसके बावजूद खबर लिखे जाने तक मां और दोनों बच्चों की पहचान नहीं हो सकी है।

पहले छोटे, फिर बड़े बेटे को फेंका

गांव के लोगों ने बताया कि रविवार दोपहर 27 साल की एक महिला आसपुर धर्मकांटे के पास कुएं पर पहुंची। उसके साथ करीब डेढ़ साल और तीन साल के बच्चे भी थे। बच्चों को अपने हाथों से नल का पानी पिलाने के बाद उसने पहले छोटे बेटे को कुएं में फेंक दिया, उसके बाद 3 साल के बड़े बेटे को कुएं में धकेला और फिर खुद भी कूद गई।

पूरे हादसे की आंखों देखी

दैनिक भास्कर की टीम को एक प्रत्यक्षदर्शी राजेश कुमार ने बताया कि घटना दोपहर लगभग 12:55 की है, जब वो धर्मकांटे के पास बैठे थे। इसी बीच एक महिला, जिसकी उम्र लगभग 27 वर्ष थी, अपने दो बच्चों को गोद में लिए आई। एक बच्चे की उम्र लगभग डेढ़ वर्ष और हाथ से पकड़े दूसरे बच्चे की उम्र लगभग 3 वर्ष की थी। वह कुएं के पास लगे हैंडपंप के पास पहुंची। राजेश कुमार समझे कि महिला शौच के लिए एकांत जगह ढूंढ रही है। यह सोचकर राजेश कुमार ने महिला को हिदायत दी कि बच्चे को ठीक से रखिएगा, कुंआ खुला हुआ है।

फिर थोड़ी देर के लिए वहां से हट गए, ताकि महिला एकांत में शौच कर सके। राजेश कुमार ने बताया कि जब कुछ देर बाद वहां पहुंचे तो देखा कि महिला का कोई अता-पता नहीं है। एक चप्पल कुएं के नजदीक पड़ी थी और दूसरी कुएं के ऊपर रखी थी। जब कुएं के नजदीक पहुंचे और झांककर देखा तो दोनों बच्चे छटपटाते नजर आए।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it