Top
Begin typing your search...

8 वर्षों के इंतजार के बाद मंदार के लोगों की चाहत हुई पूरी, रोपवे में बैठकर सीएम नीतीश मंदार पर्वत शिखर पर गए

8 वर्षों के इंतजार के बाद मंदार के लोगों की चाहत हुई पूरी, रोपवे में बैठकर सीएम नीतीश मंदार पर्वत शिखर पर गए
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कुमार कृष्णन

बांका । झमाझम बारिश के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंदार पर्वत के शिखर तक पहुंचने के लिए बनाए गए रोपवे का मंगलवार को उद्घाटन किया।साथ ही करीब 18 एकड़ जमीन पर मंदार जैव-विविधता संरक्षण क्षेत्र का शिलान्यास भी किया गया। रोपवे चालू हो जाने से जहां मंदार में अब पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा वहीं इस क्षेत्र के लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

रोपवे के निर्माण से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी खुश हैं। पर्यटन के क्षेत्र में विकास की ओर एक कदम बढ़ाने पर मुख्यमंत्री ने अपनी खुशी वक्त की। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, " रोपवे का जो निर्माण हुआ, उसका उद्घाटन करने का अवसर मिला।


बहुत पहले जब हमने आकर देखा था, तो समझ आया था कि इस स्थल का धार्मिक महत्त्व है, अच्छी जगह है।लेकिन कभी ऊपर जा नहीं पाया था।" पहले जब हमने आकर देखा था, तो समझ आया था कि इस स्थल का धार्मिक महत्त्व है, अच्छी जगह है।लेकिन कभी ऊपर जा नहीं पाया था।

मुख्यमंत्री ने कहा, " रोपवे के माध्यम से आज मुझे ऊपर तक जाने का मौका मिला।इस बात की मुझे व्यक्तिगत रूप से खुशी है। ये बहुत अच्छा हो गया।पहले लोगों को ऊपर जाने में घंटे भर से भी अधिक समय लगता था। अब रोपवे के निर्माण के बाद चार मिनट में लोग नीचे से ऊपर पहुंच जाएंगे।ये बहुत अच्छी बात है। पहले रोपवे केवल राजगीर में था, लेकिन हम लोगों ने निर्णय लिया कि हमलोग कई जगहों पर इसकी शुरुआत करेंगे।मंदार पर्वत से कई धर्म के लोगों की आस्था जुड़ी हुई है। रोपवे के शुरू हो जाने से इस धर्मस्थली को चार चाँद लग जाएगा एवं पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।


80 रुपये का टिकट लेकर अब मंदार पर्वत के शिखर पर पहुंचा जा सकेगा।लोग मंदार की ऐतिहासिक पौराणिक और धार्मिक स्थलों का दर्शन कर पायेंगे।इतिहास में समुंद्र मंथन की मथानी के रूप में जिस मंदराचल की चर्चा की गयी है वह वास्तव में भागीरथी गंगा के दक्षिण में अवस्थित अंग की धरती पर मौजूद यही मंदार पर्वत है, जिसका आज दीदार और दर्शन पूजन करने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे।

मुख्‍यमंत्री के साथआए राज्य के पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद ने कहा कि मंदार को जैन सर्किट के तरह शिव सर्किट से भी जोड़ा जाएगा। मंदार में रोप-वे चालू होने से स्थानीय स्तर पर स्वरोजगार के अवसर प्रदान होंगे। भारत सरकार एवं बिहार पर्यटन के द्वारा मंदार में विकास के कार्य किए जाएंगे। बासुकीनाथ धाम, वैद्यनाथधाम, मंदार को एक सर्किट से जोड़कर पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा। इस दौरान उपमुख्‍यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, सांसद गिरिधारी यादव, भागलपुर के प्रमंडलीय आयुक्त प्रेम सिंह मीणा, डीआइजी सुजीत कुमार, ज‍िलाध‍िकारी सुहर्ष भगत, विधायक रामनारायण मंडल, प्रो ललित नारायण मंडल, पर्यटन व‍िभाग के सचिव संतोष मल्‍ल भी मौजूद थे।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it