Top
Begin typing your search...

दरोगा की हत्या का सनसनीखेज खुलासा, मोबाइल देने का वादा कर खेत में लड़कों से बनवाता था अप्राकृतिक यौन संबंध?

दरोगा की हत्या का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है. मामले के खुलासे के बाद पुलिस के भी होश उड़ गए.

दरोगा की हत्या का सनसनीखेज खुलासा, मोबाइल देने का वादा कर खेत में लड़कों से बनवाता था अप्राकृतिक यौन संबंध?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बिहार में समस्तीपुर के मुफ्फसिल थाने में तैनात दरोगा की हत्या का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है. मामले के खुलासे के बाद पुलिस के भी होश उड़ गए. पुलिस के मुताबिक, दरोगा मोबाइल फोन देने के नाम पर गांव के लड़कों से अप्राकृतिक यौनाचार/ अप्राकृतिक यौन संबंध बनवाता था. कई बार फोन देने की बात टालने की बात से आरोपी झल्ला गए और अप्राकृतिक यौन संबंध के दबाव से तंग आकर दरोगा की रॉड मारकर हत्या कर दी.

पुलिस का कहना है कि मृतक के मोबाइल सीडीआर के आधार पर जांच के बाद पुलिस ने 3 युवकों को गिरफ्तार किया है. इस हत्या की घटना में कुल 4 लोग शामिल थे. पुलिस की दबिश के दौरान एक अभियुक्त फरार होने में सफल रहा. पुलिस की जांच में यह तथ्य सामने आए हैं कि मृतक दरोगा गांव के लड़कों से अप्राकृतिक यौन संबंध बनवाता था.

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि इस कार्य के लिए मृतक दारोगा ने मोबाइल देने का भी वादा किया था. जांच में सामने आया कि घटना वाले दिन भी दारोगा ने इसी कार्य के लिए उन सभी को खेत में बुलाया था. इसके बाद सभी 4 युवक खेत में गए. जहां दरोगा ने उनसे अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने की बात कही तो अभियुक्तों ने मोबाइल मांगा. इसके बाद दारोगा ने उनसे अगली बार आने के बाद मोबाइल देने की बात कहते हुए युवकों से अप्राकृतिक यौन संबंध बनाने की बात कही.


इसी बीच 4 लड़कों में एक दरोगा के साथ यह काम करने लगा. बार-बार इस तरह के गलत काम से तंग आकर बाकी अन्य 3 लड़कों ने दरोगा की लोहे की रॉड से वार करके हत्या कर दी. पुलिस ने मृतक दरोगा का मोबाइल भी अभियुक्तों के पास से बरामद कर लिया है. घटना में शामिल 4 आरोपियों में 3 की गिरफ्तारी हो गई है. एक आरोपी पुलिस दबिश के दौरान फरार होने में सफल रहा.

एसडीपीओ मुनेश्वर प्रसाद सिंह का कहना है कि मृतक दरोगा के बेटे के आधार पर अवतारनगर थाने में एक एफआईआर दर्ज किया गया था. बुधवार को दरोगा का शव डुमरी जुअरा स्टेशन के पास मिला. मोबाइल के सीडीआर के आधार पर कॉल डिटेल से अभियुक्तों की पहचान की गई. घटना में 4 अभियुक्त शामिल थे. इन्होंने बताया कि मृतक दरोगा हमेशा इन लोगों से अप्राकृतिक यौन संबंध बनवाता था. दरोगा ने मोबाइल देने का वादा किया था लेकिन इस बार भी उसने मोबाइल नहीं दिया. साथ ही ये लोग इस काम से तंग आ गए थे. इसी कारण लोहे की रॉड से वारकर हत्या कर दी.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it