Begin typing your search...

इंजीनियर के ठिकानों पर निगरानी विभाग की छापेमारी, 53 लाख कैश के साथ गहने जब्त

बिहार में भ्रष्ट तरीके से अकूत संपत्ति हासिल करने वाले पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई जारी है। 

इंजीनियर के ठिकानों पर निगरानी विभाग की छापेमारी, 53 लाख कैश के साथ गहने जब्त
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार में भ्रष्ट तरीके से अकूत संपत्ति हासिल करने वाले पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई जारी है। आज बुधवार को एक बार फिर निगरानी विभाग की टीम ने एक बड़े अधिकारी के ठिकाने पर छापामारी की और भारी मात्रा में अवैध संपत्ति का खुलासा किया। बता दें कि निगरानी विभाग ने सिवान के जल संसाधन विकास विभाग के कार्यपालक अभियंता हरे कृष्ण प्रसाद के ठिकानों पर छापेमारी कर 53 लाख कैश, भारी मात्रा में गहने, जमीन के कई कागजात के साथ-साथ लगभग 6 लाख के पुराने नोट भी जब्त किए हैं। इसके अलावा LIC और बैंक के कई कागजात भी अब तक बरामद किए गए हैं। टीम का नेतृत्व कर रहे एस के मौआर ने कहा है कि रेड का काम अभी जारी है।

इस छापेमारी को लेकर डीएसपी ने कहा कि आरोपी इंजीनयर के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का केस निगरानी थाने में दर्ज है। जिसमें आय से लगभग 60 लाख अधिक संपत्ति होने का आरोप लगाया गया है। इसी मामले में सर्च वारंट लेकर कार्यपालक अभियंता के पटना के रूपसपुर स्थित निजी आवास और सिवान स्थित ठिकानों में छापेमारी की जा रही है। भ्रष्ट पदाधिकारी के पास जितने कालेधन का आकलन किया गया था उससे ज्यादा का अनुमान लगाया गया है।

बता दें कि कार्यपालक अभियंता हरे कृष्ण प्रसाद सुपौल के रहने वाले हैं। उनका ट्रांसफर सिवान से पटना के बख्तियारपुर में हो चुका है। आज ही पदाधिकारी पटना ज्वाइन करने गए हुए हैं। इधर निगरानी की टीम ने उनके काले कारनामे की पोल खोल कर रख दिया है।

Sakshi
Next Story
Share it