Begin typing your search...

शक्ति मलिक हत्याकांड : तेजस्वी और तेजप्रताप यादव के खिलाफ FIR दर्ज

हाल ही में शक्ति मलिक ने आरजेडी और तेजस्वी यादव पर लाखों रुपये की डिमांड करने का आरोप लगाया था.

शक्ति मलिक हत्याकांड : तेजस्वी और तेजप्रताप यादव के खिलाफ FIR दर्ज
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार चुनाव से ठीक पहले एक हत्या का मामला सामने आया है. पूर्व आरजेडी नेता शक्ति मलिक की रविवार तड़के कुछ बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी. अब इस मामले को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और उनके भाई तेज प्रताप के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. बताया जा रहा है कि 38 साल के शक्ति कुमार मलिक बिहार विधानसभा चुनाव में रानीगंज सीट से चुनाव लड़ने वाले थे. हाल ही में उन्होंने आरजेडी और तेजस्वी यादव पर लाखों रुपये की डिमांड करने का आरोप लगाया था.

परिवार ने लिया 3 नेताओं का नाम

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व आरजेडी नेता की हत्या के मामले में कुल तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है. जिनमें आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव और अनिल कुमार साधु का नाम शामिल है. शक्ति मलिक के परिवार ने इन तीनों पर गंभीर आरोप लगाए हैं और हत्या के पीछे हाथ बताया है. बता दें कि अनिल कुमार साधु एलजेपी नेता राम विलास पासवान के दामाद हैं.

बताया गया है कि रविवार सुबह तीन नकाबपोश बदमाश शक्ति कुमार मलिक के घर के बाहर आए और उन पर कई राउंड फायर किए. इसके बाद तीनों वहां से फरार हो गए. परिवार ने आनन-फानन में उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया, लेकिन उनकी मौत हो चुकी थी.

तेजस्वी पर लगाया था 50 लाख मांगने का आरोप

बता दें कि शक्ति कुमार मलिक आरजेडी में एससी-एसटी प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव थे. उनका आरोप था कि जब वो तेजस्वी यादव से रानीगंज विधानसभा का टिकट मांगने की बात करने गए तो तेजस्वी ने उनसे करीब 50 लाख रुपये की डिमांड की थी. साथ ही मना करने के बाद आपत्तिजनक टिप्पणी कर भगा दिया था. इसके बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर भी तेजस्वी यादव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था.

परिवार ने कई लोगों का नाम लिया है, लेकिन सबसे गंभीर आरोप अनिल कुमार साधु पर लगाए हैं. उनका आरोप है कि अनिल उन्हें जान से मार डालने की धमकी दिया करते थे. जिसके बाद अब पुलिस ने सभी लोगों का नाम एफआईआर में लिखा है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है और हमलावरों को पकड़ने के लिए टीम बनाई जा रही हैं. पुलिस को उम्मीद है कि जल्द हमलावर पकड़े जाएंगे.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it