Begin typing your search...

चाचा ने किया भतीजी से रेप, सदमे में पिता की हुई मौत

इस वारदात से पूरा परिवार सदमे में आ गया। पीड़िता के पिता की गुरुवार सुबह सदमे की वजह से मौत हो गई। वहीं, उसकी मां की हालत भी नाजुक है, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

चाचा ने किया भतीजी से रेप, सदमे में पिता की हुई मौत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार के बांका जिले में एक शख्स ने अपनी नाबालिग भतीजी का रेप कर दिया। इस वारदात से पूरा परिवार सदमे में आ गया। पीड़िता के पिता की गुरुवार सुबह सदमे की वजह से मौत हो गई। वहीं, उसकी मां की हालत भी नाजुक है, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। गांव के लोग आरोपी फांसी की सजा देने की मांग कर रहे हैं।

17 साल की नाबालिक से रेप

जानकारी के मुताबिक बांका जिले के रजौन थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली 17 साल की लड़की बुधवार को शौच पर गई थी। तभी रिश्ते में चाचा लगने वाले एक शख्स ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। रेप के बाद गंभीर हालत में पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पीड़िता के पिता यह सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए और उनकी तबीयत बिगड़ गई। उन्हें रजौन अस्पातल ले जाया गया, जहां गुरुवार सुबह उन्होंने दम तोड़ दिया।

पिता ने सदमे में तोड़ा दम, मां की हालत नाजुक

नाबालिग रेप पीड़िता के पिता ने सदमे में गुरुवार की सुबह दम तोड़ दिया। पीड़िता की मां की हालत नाजुक बनी हुई है। साथ ही पीड़िता भी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती है। बुधवार को पीड़िता शौच पर गई थी। तभी रिश्ते में चाचा लगने वाले एक शख्स ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। 17 वर्षीय नाबालिग पीड़िता की हालत गंभीर बनी हुई है।

रिक्शा चलाकर पेट भरता था पिता

रेप की वारदात के बाद पीड़िता का पूरा परिवार बिखर गया है। उसके पिता रिक्शा चलाकर परिवार का पेट पालते थे। जब उन्होंने बेटी की हालत देखी तो वे सदमा सहन नहीं कर पाए और दम तोड़ दिया। उनकी मौत के बाद अब परिवार के सामने भरण-पोषण का संकट पैदा हो गया है। बेटी के दुष्कर्म और पति की मौत के बाद पीड़िता की मां की भी हालत नाजुक है।

गांव वालो ने आरोपी की फांसी की मांग की

मृतकके गांव के दर्जनों लोग गुरुवार सुबह रजौन थाना पहुंचे और आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की।

Satyapal Singh Kaushik
Next Story
Share it