Begin typing your search...

जल जीवन हरियाली योजना के तहत सभी प्रारंभ किये गये कार्यो का जीयोटैग अविलंब अनिवार्य रूप से करें-डीएम

जल जीवन हरियाली योजना के तहत सभी प्रारंभ किये गये कार्यो का जीयोटैग अविलंब अनिवार्य रूप से करें-डीएम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंगेर।जल जीवन हरियाली और सात निश्चय अन्तर्गत हो रहे कार्य-प्रगति की समीक्षा जिला पदाधिकारी श्री नवीन कुमार ने संग्रहालय सभागार में समीक्षा बैठक किया। सभी कार्यक्रम पदाधिकारी मनरेगा और नगर निकायों के नोडल पदाधिकारियों को सर्वेक्षण हेतु शेष बचे जल संरचनाओं का अविलंब सर्वे कर प्रतिवेदित करने का निदेश दिया गया। 05 एकड़ से कम तालाबों के जीर्णोद्धार कार्य में मनरेगा कार्यक्रम पदाधिकारी द्वारा धीमी प्रगति जीयोटैग नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त की गयी।

जिला पदाधिकारी ने सख्त निदेश देते हुए कहा कि जल जीवन हरियाली योजना के तहत सभी प्रारंभ किये गये कार्यो का जीयोटैग अविलंब अनिवार्य रूप से करे। जियो टैग कार्य के प्रगति के अनुरूप बार-बार करें और कार्य समाप्ति उपरांत अंतिम रूप से जियो टैग करे। उन्होंने सभी कार्यक्रम पदाधिकारी को निदेश देते हुए कहा कि वर्ष 2020 के पहले सभी योजना को बंद कर सूचीबद्ध करे। जल संचयन संरचनाओं यथा तालाब, अहर, पईन के जीर्णोद्धार कार्य की भी समीक्षा की गयी।

जीर्णोद्धार कार्य में अभी भी लक्ष्य के विरूद्ध उपलब्धि में कमी है। इस योजना में भी कार्य के प्रारंभ में नियमानुसार जियो टैग करने का निदेश दिया गया। सार्वजनिक कुओं का जीर्णोद्धार कार्य में भी धीमी प्रगति होने पर नाराजगी व्यक्त की गयी। प्रत्येक पंचायत में 03-03 कुओं का जीर्णाेद्धार एवं सोकपीट का निर्माण कार्य प्रारंभ कराते हुए चरणवार जीयोटैगिंग कराने का निदेश दिया गया था। सोख्ता, चेकडेम, नये जल स्रोतों का सृजन, वृक्षारोपण कार्यो की समीक्षा की। खेत पोखड़ी कार्यक्रम अन्तर्गत एक एकड़ से अधिक निजी स्वामित्व वाले खेतों में तालाब निर्माण कराना है। सभी कार्यक्रम पदाधिकारी को निदेश दिया गया कि किसान सलाहकार एवं किसान समन्वयक की सहायता से किसानों को मोटिवेट करे। उन्हें बताएं कि किस तरह से पोखर बनने से उनके खेत में जल हमेशा बना रहेगा।

मछली पालन कर आर्थिक रूप से और अधिक सशक्त बनेगे। जिला मत्स्य पदाधिकारी क्षेत्रवार मछली पालन के आर्थिक आय का गणना कर सभी कार्यक्रम पदाधिकारी को उपलब्ध करायेगे। निश्चय ही यह किसानों के लिए काफी फायदेमंद वाली योजना है। सरकार की सभी योजनाओं को सभी स्तर पर जियो टैग करना अनिवार्य है। सभी पंचायत के कनीय अभियंता को ऐसा करने का निदेश दिया गया। बुडको के अभियंता को जलापूर्ति योजना में लगातार मॉनिटरिंग करने का निदेश दिया गया। जिला पदाधिकारी ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता वाली योजना को पहले टेकअप करे। पूर्व से लंबित स्कीम को पूरा करने के बाद ही नये स्कीम का चयन करने का निदेश सभी प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी को दिया गया। बैठक में अपर समाहर्ता श्री विद्यानंद सिंह, उप विकास आयुक्त श्री संजय कुमार उपस्थित थे।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it