Top
Begin typing your search...

खेतों में उपज बढ़ाने व जल संचय के लिए जैविक खाद का प्रयोग करें : जितेन्द्र कुमार सिंह

जल संरक्षण पर आयोजित किसान गोष्ठी में बीएईओ ने जैविक खाद के महत्व पर प्रकाश डाला।

खेतों में उपज बढ़ाने व जल संचय के लिए जैविक खाद का प्रयोग करें : जितेन्द्र कुमार सिंह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बेगूसराय (मृत्युंजय कुमार) : नीति आयोग के आकांक्षी में कृषि विकास कार्यक्रम कृषि विज्ञान केंद्र खोदावंदपुर के तकनीकी सहयोग से कृषि कार्य में जल संरक्षण को लेकर किसान गोष्ठी का आयोजन प्रखंड क्षेत्र के तकिया पंचायत में किया गया।

गोष्ठी को संबोधन करते हुए आई टी सी के जय प्रकाश मिश्रा ने उपस्थित किसानों को कृषि के माध्यम से जल संरक्षण के उपायों को विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जल है तो कल है। प्रखंड क्षेत्र में भूगर्भीय जल स्तर का काफी नीचे जाने पर चिंता जाहिर करते हुए आने वाले दिन अथवा आने वाले पीढ़ी के लिए जल को संरक्षित करने की जिम्मेदारी हम सभी जागरूक नागरिकों की है।

वहीं प्रखंड कृषि पदाधिकारी जितेन्द्र कुमार सिंह नें कहा कि हमें अपने खेतों में रासायनिक उर्वरक के स्थान पर जैविक खाद का प्रयोग करना चाहिए। इसमें पानी को सोखने की क्षमता अत्यधिक है। खेतों को गहरी जुताई, उसका अच्छी तरह से समतलीकरण करने एवं खेतों के मेड़ों को ऊँचा तथा उस पर झाग लगाए ताकि मिट्टी अपरदन के साथ पानी बहकर बेकार होने से बचाने की अपील की।

उक्त मौके पर कृषि समन्वयक विभेष सिंह, किसान सलाहकार राजीव कुमार पाठक, किसान अनिल कुमार, नागेश्वर चौधरी, वेदप्रकाश, सुमन सहित दर्जनों ग्रामीण मौजूद थे।

Special Coverage News
Next Story
Share it