Begin typing your search...

30 वर्षीय मौलवी ने सुबह 5 बजे नहीं दी अजान, लोगों ने मस्जिद के अंदर बने कमरे में झांका तो रह गए सन्न

30 वर्षीय मौलवी ने सुबह 5 बजे नहीं दी अजान, लोगों ने मस्जिद के अंदर बने कमरे में झांका तो रह गए सन्न
X

शव का पोस्टमार्टम करवाने पहुंचे परिजन

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

वैशाली जिले के राजापाकर थाना के बरांटी ओपी स्थित चकमाही गांव में शुक्रवार को शाही मस्जिद बुधवार की सुबह 5 बजे वाला अजान नहीं दिए जाने तथा मौलवी के मस्जिद से बाहर नहीं आने पर लोगों द्वारा देर तक पुकारा गया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला, तो मेन गेट के अंदर से लगे ताले को तोड़कर स्थानीय लोगों ने मस्जिद के अंदर जाकर उनके कमरे में झांका, तो देखा गया कि इमाम का शव पंखे से लटका हुआ है तथा गले में फंदा लगा है। ये घटना की सूचना आग की तरह फैल गई और सैकड़ों लोग घटना के बारे में जानकारी लेने के लिए जुट गए।

घटना की सूचना पर बरांटी ओपीध्यक्ष घटनास्थल पर पहुंचे और अपनी मौजूदगी में फंदा काटकर शव को नीचे उतारा। पुलिस ने मौलाना के मोबाइल को बरामद किया। वहीं से इस घटना की जानकारी उनके परिजनों को दी गई तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर भेज दिया गया। मृतक मौलवी मधुबनी जिले के अबुल कलाम (30 वर्ष) इस मस्जिद में बीते 6 वर्षों से इमाम थे।

बताया जाता है कि घटना के दो-तीन दिन पहले ही घर से आए थे। ओपी अध्यक्ष श्री सोरेन ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद मृतक के परिजन शव को लेकर अपने घर चले गए। लेकिन उनके परिजनों द्वारा अब तक थाना में कोई आवेदन नहीं दिया गया है। इन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद ही पता चलेगा कि मामला हत्या का है या आत्महत्या का। पुलिस तहकीकात में लग गई है।



सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it