Begin typing your search...

अवैध संबंध के चलते महिला ने परिवार के 6 सदस्यों को चाय में जहर मिलाकर पिलाया, एक की मौत

अवैध संबंध के चलते महिला ने परिवार के 6 सदस्यों को चाय में जहर मिलाकर पिलाया, एक की मौत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार के मधुबनी जिले से बड़ी खबर आ रही है। जानकारी के अनुसार यहां अवैध संबंध के चलते महिला ने परिवार के छह सदस्यों को चाय में जहर मिलाकर पिला दिया है। घटना में जहां देवर की मौत हो गई है वहीं आरोपी महिला के दो बच्चों की हालत नाजुक बताई जा रही है। घटना जिले के बिस्फी थाना क्षेत्र के सादुल्लहपुर में घटी है। सभी पीड़ितों को अस्पताल में आनन फानन में अस्पताल में दाखिल कराया गया है। घटना की सूचना से इलाके में सनसनी फैल गई है।

जानकारी के मुताबिक बताया जाता है बिहार के मधुबनी जिले के बिस्फी थाना क्षेत्र के सादुल्लहपुर में महिला ने अवैध संबंधों के चलते अपने परिवार के छह सदस्यों को चाय में जहर मिलाकर पिला दिया। आरोप है कि चंदा देवी ने कुल छह लोगों को चाय में जहर दिया। देवर संतोष को, अपनी सास को, अपने तीन बेटों को और खुद भी जहरीली चाय पी ली। घटना में जहां देवर संतोष साह की मौत हो गई। वहीं संतोष साह का भतीजा अभिषेक साह 10 वर्ष और प्रभात कुमार 6 वर्ष की हालत नाजुक है। सभी का इलाज डीएमसीएच में चल रहा है। परिवार के तीन अन्य सदस्य इलाज के बाद खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। घटना में चंदा देवी का बड़ा बेटा और उसकी सास घर पर ही खतरे से बाहर है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस जांच में जुट गई है।

अवैध संबंध का विरोध करना पड़ा भारी छोटे ने दो बड़े भाई को मार डाला

अवैध संबंध में अपनों की जान लेने का ये नया मामला नहीं है। इससे पहले मधुबनी जिले के ही जयनगर में आज से ठीक दो साल पहले 13 अक्टूबर 2018 में छोटे भाई ने चाकू से वारकर दो बड़े भाइयों की हत्या कर दी थी। घटना जयनगर थाना क्षेत्र की बेलही दक्षिणी पंचायत के बेला चौक बगही टोले की थी। जानकारी के मुताबिक छोटे भाई के अवैध संबध को लेकर दो बड़े भाई परेशान थे।

इसको लेकर एक दिन दोनों बड़े भाई राम प्रसाद और राम उदगार छोटे भाई राम कुमार दास को समझाने लगे। छोटे भाई से दोनों भाइयों का विवाद बढ़ने लगा। मामला पहले हाथापाई पर पहुंचा। इसी बीच दोनों बड़े भाइयों ने कहा कि आंगन में टाट (फूस की दीवार) लगाकर पार्टिशन कर देते हैं। हाथापाई होता देख पिता पंचलाल दास अपने छोटे बेटे पक्ष लेने लगे। इसी बीच बात इतनी बढ़ गई कि छोटे भाई ने चाकू मारकर दोनों भाइयों को गंभीर रूप से घायल कर दिया। आरोप है कि हमले के दौरान पिता भी छोटे बेटे का साथ दे रहे थे। अस्पताल ले जाते एक भाई राम उदगार दास की मौत रास्ते में ही हो गई। वहीं दूसरे भाई रामप्रकाश दास की मौत डीएमसीएच में हो गई। घटना के बाद परिवार के शेष लोग और आरोपित फरार हो गए थे।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it