Begin typing your search...

लोगों ने समझा लाश लेकिन जिंदा निकली महि‍ला, 12 घंटे में 10 किमी तक नदी में बहती रही

महिला का नाम अनिता देवी है. राघोपुर दियारा की रहने वाली ये महिला देर शाम गंगा नदी पर बने पीपा पुल से गुजर रही थी..!

लोगों ने समझा लाश लेकिन जिंदा निकली महि‍ला, 12 घंटे में 10 किमी तक नदी में बहती रही
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

वैशाली : हड्डियां जमा देने वाले इस सर्द मौसम और बर्फ हो चुकी नदी के पानी में तैरती महिला...और गंगा नदी की धारा में बहती महिला को निकालने की मछुआरों की मशक्‍कत....नाव पर सवार मछुआरे किसी उसे नदी से निकालकर नाव पर लेकर आते हैं. हैरत की बात‍ थी कि महिला जिंदा थी. हैरान कर देने वाला यह वाकया बिहार के वैशाली जिले का है.

महिला गंगा नदी के बर्फ जमा देने वाले जैसे ठंडे पानी में 12 घंटे तक तैरती रही. करीब 10 किलोमीटर दूर मौत के करीब पहुंची इस महिला को मछुआरों ने जिंदा बचा लिया.

महिला का नाम अनिता देवी है. राघोपुर दियारा की रहने वाली ये महिला देर शाम गंगा नदी पर बने पीपा पुल से गुजर रही थी. चक्कर आने की वजह से ऑटो से उतरकर पीपा पुल पर बैठ गई. इतने में पैर फिसला और नदी में जा गिरी. रात भर महिला नदी में तैरती रही.

राघोपुर पीपा पुल से करीब 10 किलोमीटर दूर सुबह-सुबह मछुआरों की एक टोली ने इस महिला अनिता देवी को पानी की धारा के साथ बहते देखा और नदी से निकाला. इस पूरी घटना को मछुआरों की टोली में से एक मछुआरे ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया.

रात भर नदी के ठंडे में रहने के बाद महिला की हालत बेहद नाजुक दिख रही थी. महिला को आनन फानन में स्‍थानीय अस्‍पताल लाया गया जहां डॉक्‍टरों ने गर्म कपड़ों और हीटर की मदद से नई जिंदगी दी.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it