Begin typing your search...

मातृत्व मृत्यु एवं बाल मृत्यु के अनुश्रवण समीक्षा के लिए कार्यशाला सह प्रशिक्षण

मातृत्व मृत्यु एवं बाल मृत्यु के अनुश्रवण समीक्षा के लिए कार्यशाला सह प्रशिक्षण
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुंगेर। जिला परिषद सभागार में जिला स्तरीय मातृत्व मृत्यु एवं बाल मृत्यु के अनुश्रवण समीक्षा के लिए कार्यशाला सह एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम किया गया। दीप जलाकर जिला पदाधिकारी श्री नवीन कुमार और सिविल सर्जन ने कार्यशाला का शुभारंभ किया। मुख्य रूप से इसमें राज्य स्तर से आयी टीम ने एमओआईसी तथा सभी संबंधित अधिकारियों एवं कर्मियों को भी प्रशिक्षण दिया। उन्होंने बताया कि संस्थागत प्रसव के दौरान जच्चा एवं बच्चा किस प्रकार सुरक्षित एवं बेहतर स्वास्थ्य सीमा में रहेगे। उन्होंने प्रसव से पूर्व दौरान और प्रसव उपरांत किन किन चीजों का ध्यान रखना है इसने बारे में भी बारीकि से बताया। मृत्यु के कारणों को उन्होंने स्पष्ट रूप से उल्लेखित करते हुए प्रतिवेदित करने को भी कहा। जिससे कि व्यवस्था में और भी गुणात्मक सुधार आ सके। निजी चिकित्सक के अतिरिक्त स्त्री रोग विशेषज्ञ इस कार्यशाला में उपस्थित रही।

कार्यशाला उपरांत जिला पदाधिकारी ने कोविड 19 में केयर के सहयोग से चलाये गये। टीकाकरण सप्ताहिक पुरस्कार के तहत चयनित प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। 3000 के बम्पर प्राइज के सामान के साथ साथ एक-एक हजार के 11 लोगों के बीच घरेलू सामान से पुरस्कृत किया गया। वे ऐसे लोग थे जिनका कोरोना टीका के दूसरे डोज के निर्धारित अवधि होने पर अविलंब टीका ले लिया था। लकी ड्राॅ के तहत उनको पुरस्कृत किया गया। मौके पर सिविल सर्जन, डीपीएम नसीम रजी, केयर इंडिया के डाॅ0 नीलू उपस्थित थे।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it