Begin typing your search...

बिहार में जहरीली शराब पीने से युवक ने गंवाई आंखों की रोशनी

मुकेश ठाकुर ने गांव के एक शादी समारोह में शराब पी थी, जिसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई।

Liquor Price in Delhi 2022 दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति में रिटेल में शराब बेचने वाली कंपनियों को यह अधिकार दिया गया है कि वह स्वेच्छा से एमआरपी से कम कीमत पर शराब बेच सकती हैं।
X

Liquor Price in Delhi 2022 दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति में रिटेल में शराब बेचने वाली कंपनियों को यह अधिकार दिया गया है कि वह स्वेच्छा से एमआरपी से कम कीमत पर शराब बेच सकती हैं।

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार में नीतीश कुमार का राज है और वहां पर पूर्ण शराबबंदी है। इसके बावजूद जहरीली शराब ( poisonous liquor ) का कहर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला छपरा ( Chhapra News ) से सामने आया है। इस बार किसी की जान तो नहीं गई, लेकिन जहरीली शराब ( poisonous liquor ) ने एक युवक की जिंदगी भर की रोशनी जरूर छीन ली। जहरीली शराब से आंख की रोशनी गंवाने वाले युवक का नाम मुकेश ठाकुर है जो पानापुर थाना क्षेत्र के भोरहा गांव का निवासी है।

मुकेश ठाकुर ने गांव के एक शादी समारोह में शराब पी थी, जिसके बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई। शराब पीने के बाद अचानक उसकी आंखों की रोशनी चली गई। इलाज के लिए उसे पानापुर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

जहरीली शराब ( poisonous liquor ) के शिकार युवक की गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे छपरा ( Chhapra ) सदर अस्पताल रेफर कर दिया। छपरा सदर अस्पताल में उसका इलाज जारी है। इससे पहले सारण के तरैया में भी शराब पीने से 6 लोगों की मौत हुई थी। तब प्रशासन ने इस बात की पुष्टि नहीं की थी लेकिन इस मामले में डॉक्टर ने कहा है कि अल्कोहल के सेवन से तबीयत बिगड़ी है।

जहरीली शराब की चपेट में आये भोरहां गांव निवासी मुकेश ठाकुर की सैलून की दुकान है। वह शराब पीने का आदी है। सोमवार को पास के गांव में शादी में शिरकत करने गया था। वहां से आने पर उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। मंगलवार को आंख से कम दिखाई देने की उसने शिकायत की। इसके बाद परिजन उसे इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे छपरा रेफर कर दिया। छपरा सदर अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है, लेकिन स्थिति नाजुक है।

Sakshi
Next Story
Share it