Begin typing your search...

दही, लस्सी पर जीएसटी लगाने का फैसला किसका था? वित्त मंत्री ने राज्य सभा में दी बड़ी जानकारी

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब में यह जानकारी दी.

दही, लस्सी पर जीएसटी लगाने का फैसला किसका था? वित्त मंत्री ने राज्य सभा में दी बड़ी जानकारी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जीएसटी बैठक के बाद वित्त मंत्री की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, 18 जुलाई से कई चीजों के दाम बढ़ गए हैं, जिसे लेकर लगातार विरोध हो रहा है. अब सरकार ने इस पर नया बयान दिया है. आटा,चावल, दाल जैसी चीजों पर जीएसटी को लेकर लोगों लोगों में हो रहे सवाल-जवाब के बीच सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि अनाज, दही, लस्सी सहित विभिन्न वस्तुओं पर माल और सेवा कर (GST) लगाए जाने का हालिया फैसला विभिन्न राज्यों के मंत्रियों के समूह (GOM) ने सर्वसम्मति से लिया था.

वित्त मंत्री ने दी बड़ी जानकारी

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब में यह जानकारी दी. उन्होंने अपने जवाब में बताया कि जीएसटी परिषद की लखनऊ में हुई 45वीं बैठक में विभिन्न राज्यों के मंत्रियों का एक समूह (जीओएम) बनाने का फैसला किया गया था. चौधरी ने कहा कि उस जीओएम में कर्नाटक, बिहार, केरल, गोवा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के मंत्री शामिल थे. उन्होंने यह भी कहा कि यह जीओएम सर्वसम्मति से फैसले लेता है.

दरअसल, इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने सवाल किया था कि हाल ही में जिस बैठक में अनाज, दही, लस्सी आदि पर जीएसटी लगाए जाने का फैसला हुआ, क्या उसमें विपक्षी दलों द्वारा शासित दिल्ली, केरल, राजस्थान और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के मंत्री मौजूद थे. उन्होंने यह सवाल भी किया कि क्या इन प्रदेशों ने बैठक में इन वस्तुओं पर जीएसटी लगाए जाने का विरोध किया था या असहमति जताई थी.

विभिन्न राज्यों के मंत्रियों ने लिया फैसला

पंकज चौधरी ने कहा कि फैसला करने वाले समूह में शामिल लोगों की स्वीकृति से ही फैसला लिया गया. इतना ही नहीं, उन्होंने पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी के दायरे में लाए जाने से जुड़े एक सवाल के जवाब में कहा कि इस तरह के फैसले जीएसटी परिषद लेती है और उसमें यह प्रस्ताव आया था.

पंकज चौधरी ने कहा, 'प्रस्ताव पर अभी विचार किया जा रहा है.' भाजपा सदस्य अशोक बाजपेयी ने सवाल किया था कि क्या 'एक देश, एक मूल्य' के सिद्धांत के तहत पेट्रोलियम उत्पादों पर समान जीएसटी लागू किया जाएगा.

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it