Top
Begin typing your search...

दिल्ली यूनिवर्सिटी में पोस्ट ग्रेजुएशन, एमफिल और पीएचडी के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू

सबसे पहले डीयू की आधिकारिक वेबसाइट du.ac.in पर जाएं।

दिल्ली यूनिवर्सिटी में पोस्ट ग्रेजुएशन, एमफिल और पीएचडी के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोरोना की दूसरी लहर के बाद आज यानी 26 जुलाई 2021 से दिल्ली यूनिवर्सिटी में में पोस्ट ग्रेजुएशन, एमफिल और पीएचडी के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो रही है। इनमें आवेदन के लिए du.ac.in पर भी आवेदन किए जा सकते हैं।आपको बता दें कि इन कोर्स में कुल मिलाकर लगभग 20 हजार सीटें हैं। इनमें एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन लिंक 21 अगस्त तक खुला रहेगा। पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम के लिए एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म और एमफिल, पीएचडी के लिए कॉमन रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरा जाएगा।

इस साल यूनिवर्सिटी ने फैसला किया है कि मेरिट बेस्ड और रजिस्ट्रेशन बेस्ड एडमिशन में शुल्क में कोई चेंज नहीं होगा। इन स्टेप्स से करें आवेदन

DU एडमिशन 2021: आवेदन

सबसे पहले डीयू की आधिकारिक वेबसाइट du.ac.in पर जाएं।

होम पेज पर दिए गए DU PG admission link पर क्लिक करें

एप्लीकेशन फॉर्म भरें और एप्लीकेशन शुल्क भरें।

कंफर्मेशन पर क्लिक करके और इसका प्रिंटआउट ले लें।

दिल्ली यूनिवर्सिटी ने साल 2021-22 के लिए एंट्रेंस एग्जाम आधारित कोर्सेस में बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी, बैचलर ऑफ ऑक्यपेशनल थेरेपी, बैचलर ऑफ प्रोस्थेटिक्स एण्ड ऑर्थोटिक्स और मास्टर ऑफ फिजियोथेरेपी को भी शामिल किया है.

रजिस्ट्रेशन फीस में बदलाव नहीं

हर कॉलेज कुल सीटों की 5 प्रतिशत सीट, स्पोर्ट्स कोटा और एक्स्ट्रा करीकुलर एक्टिविटीज के आधार पर भर सकते हैं. ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने NET क्वालीफाई नहीं किया है, उन्हें भी पीजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए DUET परीक्षा देनी होगी. मेरिट और प्रवेश परीक्षा आधारित एडमिशन के नामांकन शुल्क में कोई बदलाव नहीं होगा.

सीटों की संख्या

डीयू में अंडरग्रेजुएट की 65,000 और पोस्टग्रेजुएट की 20,000 सीट हैं. यूजी कोर्सेस (DU UG Courses) में मेरिट के आधार पर एडमिशन होगा. उम्मीदवारों के एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया में कोई बदलाव नहीं होगा. पहली कट ऑफ लिस्ट 7 से 10 सितंबर के बीच जारी की जाएगी. इस वर्ष 9 की जगह 13 पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा होगी.

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it