Top
Begin typing your search...

हिन्दी सर्वाधिक लोगों की संप्रेषणीय भाषा:ताराकिशोर

हिन्दी सर्वाधिक लोगों की संप्रेषणीय भाषा:ताराकिशोर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कुमार कृष्णन

पटना। हिन्दी दिवस कार्यक्रम में माननीय उप मुख्यमंत्री ने भाग लिया। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। आरडी एण्ड डीजे काॅलेज के हिन्दी प्रोफेसर अविनाश चन्द्र पांडेय तथा राजनीति विज्ञान के डाॅ. विद्यानंद चौधरी, विधायक मुंगेर श्री प्रणव कुमार, विधायक जमालपुर श्री अजय कुमार सिंह, राजेश जैन ने भी हिन्दी के दिशा और दशा में अपने विचार प्रकट किये।

उप मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि हिन्दी दिवस में हिन्दी की महता को याद करने का समय है। कष्ट में हम माॅ को याद करते है न मदर को। उन्होंने कहा कि राजभाषा विभाग को हिन्दी के विकास के लिए और सशक्त होने की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि अंग्रेजी और उर्दू से कोई विभेद नहीं है। स्वयं से शुरू करने की आवश्यकता है। किसी प्रकार की हिन्दी के विकास की शुरुआत अपने आप से होनी चाहिए।


आज यूपीएससी, बीपीएससी एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में हिन्दी भाषा छात्र अव्वल हो रहे है। द्विभाषिया रखने की जरूरत हमें नहीं होनी चाहिए बल्कि सामने वाला रखेगा। क्योंकि हिन्दी सबसे अधिक लोगों के बीच, क्षेत्रों के लोगों के बीच संप्रेषणीय भाषा है। हमें कभी भी हिन्दी को लेकर हीन भावना नहीं पालना चाहिए। हिन्दी हमारी माता है और यह सम्मान की बात है। अंत में उन्होंने आरडी एण्ड डीजे काॅलेज के हिन्दी प्रोफेसर श्री अविनाश चन्द्र पांडेय एवं संचालक कौशल किशोर पाठक को शाल देकर सम्मानित किया।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it