Top
Begin typing your search...

राष्ट्रपति महोदय को "आईफा" का पत्र, मनोहर खट्टर व अजय मिश्रा को तत्काल करें बर्खास्त - हर्बल किंग राजा भैया

लखीमपुर खीरी में किसानों की निर्मम हत्या पर तत्काल हो कठोरतम कार्यवाही,सभी दोषियों पर इरादतन हत्या का जुर्म दर्ज हो

राष्ट्रपति महोदय को आईफा का पत्र, मनोहर खट्टर व अजय मिश्रा को तत्काल करें बर्खास्त - हर्बल किंग राजा भैया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हर्बल किंग के नाम से मशहूर किसान नेता डॉ राजराम त्रिपाठी उर्फ़ राजा भैया ने कहा कि कल 3 अक्टूबर 2021 को लखीमपुर खीरी (उत्तर प्रदेश) में किसानों की दिनदहाड़े नृशंस हत्या की घटना से पूरा देश स्तब्ध और अत्यंत आक्रोशित है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा 'टेनी', उनके पुत्र आशीष मिश्रा एवं उनके गुंडे साथियों ने जिस सुनियोजित बेशर्म तरीके से इस जानलेवा हमले को अंजाम दिया है, वह स्पष्ट रूप से उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार की गहरी साजिश को दर्शाता है।

गौरतलब है कि अजय मिश्रा ने पहले ही किसानों के खिलाफ लगातार भड़काऊ और अपमानजनक भाषण देकर इस हमले की पृष्ठभूमि तैयार कर दी थी। इसे कदापि शब्द संयोग नहीं माना जा सकता कि उसी दिन, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सार्वजनिक रूप से अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को संवैधानिक पद पर रहते हुए किसानों को दुष्ट बताते हुए, "शठे शाठ्यम समाचरेत" की नीति का गूढ़मंत्र किसानों के खिलाफ हिंसा हेतु पार्टी कार्यकर्ताओं को भड़काकर लाठियां चलाने और किसानों के खिलाफ सामूहिक हिंसा में शामिल होने के लिए उकसा रहे थे।। एक महत्वपूर्ण संवैधानिक पद पर होते हुए भी इस प्रकार से खुलेआम सार्वजनिक हिंसा भड़काने वाले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को उनके पद से तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए।

इन घटनाओं से स्पष्ट है कि संवैधानिक पदों पर बैठे ये लोग शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे अन्नदाता किसानों के खिलाफ सुनियोजित हिंसा के लिए अपने पदों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

अखिल भारतीय किसान महासंघ तथा हमारे साथ शामिल देश के सभी किसान संगठन/सामाजिक संगठन,सर्व आदिवासी समाज आज देश के संवैधानिक प्रमुख महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से यह मांग करते हैं कि,

1- केंद्रीय गृह मंत्री अजय मिश्रा टेनी को तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए और उनके खिलाफ सामूहिक हिंसा भड़काने और सांप्रदायिक नफरत फैलाने का मामला दर्ज किया जाना चाहिए, तथा आशीष मिश्रा -मोनू-और उसके साथी सभी गुंडों पर तुरंत 302 (हत्या) का मामला दर्ज कर तत्काल गिरफ्तार किया जाना चाहिए.

2- इस घटना की निष्पक्ष जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में एक एसआईटी से कराई जानी चाहिए.

3-संवैधानिक पद पर रहते हुए हिंसा भड़काने वाले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को उनके पद से बर्खास्त किया जाना चाहिए.

4- इस हिंसा में मारे गए हमारे सभी साथियों के परिवारों को एक एक करोड़ रुपये, तथा किसी एक परिजन को शासकीय सेवा, एवं सभी घायल साथियों को उनके समुचित इलाज हेतु पर्याप्त सहायता राशि अविलंब प्रदान किया जाना चाहिए।

आईफा सहित देश के 40 किसान संगठनों, सामाजिक संगठनों सर्व आदिवासी समाज छत्तीसगढ़, भाई राजाराम तोड़ेम, भाई दशरथ कश्यप समेत सभी साथी शहीद किसानों को भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए यह वादा करते हैं कि इन बहादुर किसान साथियों की शहादत बेकार नहीं जाएगी हम आपके हिस्से का और अपना हक व न्याय लेकर ही मानेंगे।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it