Top
Begin typing your search...

छत्तीसगढ़ सीएम से मिले राकेश टिकैत और राजाराम त्रिपाठी, कोंडागांव में आधुनिक तरीके से की जा रही खेती देखने का दिया न्यौता

छत्तीसगढ़ सीएम से मिले राकेश टिकैत और राजाराम त्रिपाठी, कोंडागांव में आधुनिक तरीके से की जा रही खेती देखने का दिया न्यौता
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष चौधरी राकेश टिकैत ने राज्य सरकार से श्वेत पत्र की मांग की है। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से किसानों से किए वादों और खेती से संबंधित योजनाओं पर अमल को लेकर जानकारी मांगी है। इसके साथ ही उन्होंने सीएम से आग्रह किया है कि वे मृत किसानों के बच्चों के नाम जमीन हस्तांतरण के प्रकरण जल्द निपटाने के लिए अफसरों को निर्देशित करें।


सीएम से मुलाकात के दौरान टिकैत के साथ भाकियू के राष्ट्रीय महासचिव चौधरी युद्धवीर सिंह व आईफा के संयोजक डॉ. राजाराम त्रिपाठी भी थे। टिकैत ने बताया कि उनकी में आया है कि नामांतरण के प्रकरणों का निपटारा करने में विलंब हो रहा है। कई केस लंबित हैं। किसान नेताओं ने सीएम को यह भी सलाह दी कि वे कोंडागांव में डॉ. त्रिपाठी के यहां आधुनिक तरीके से की जा रही खेती के तरीके जरूर देखें।

मीडिया से बातचीत में टिकैत ने कहा कि लोग हमें कहते हैं कि हम वहीं प्रदर्शन करते हैं जहां भाजपा की सरकारें हैं। ऐसा होता तो हम छत्तीसगढ़ क्यों आते? यहां अगर किसानों को दिक्कत हो रही होगी तो यहां और भी बैठकें करेंगे। देश में जो काम होना चाहिए उसे सरकार इलेक्शन के रूप में देखकर करवाती है जबकि यह विकास और लोगों की जरूरत के मुताबिक होना चाहिए।

राकेश टिकैत, युद्धवीर सिंह चौधरी सहित दर्जनों बड़े किसान नेता कोंडागांव आकर यहां "मां दंतेश्वरी हर्बल फार्म" पर की जा रही *"उच्च लाभदायक बहुस्तरीय जैविक खेती" के सफल माडल को देख समझ कर गए हैं। राकेश टिकैत और चौधरी युद्धवीर सिंह जी ने तो कल मुख्यमंत्री जी से मुलाकात करके उन्हें यह सलाह भी दे डाली कि वह कभी वक्त निकालकर कोंडागांव जाकर डॉक्टर त्रिपाठी द्वारा की जा रही विशिष्ट खेती की पद्धति को देखें और उसके जरिए प्रदेश के अन्य किसानों का भी कल्याण करें, लगे हाथ डां राजाराम त्रिपाठी ने भी उन्हें फार्म पर आने हेतु सादर न्योता भी दे दिया है,अब देखना यह है इस सूबे के मुखिया कोंडागांव मां दंतेश्वरी हर्बल फार्म पर कब पधारते हैं,, बहरहाल,,, "मां दंतेश्वरी हर्बल समूह" कोंडागांव , बस्तर के सभी सदस्य भाइयों को उनकी इस लगन तथा मेहनत के लिए बधाई तो बनती ही है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it