Begin typing your search...

दिल्ली में बीजेपी और आप आमने सामने, जनता के मुद्दे से किसी को कोई मतलब नहीं, सिर्फ वोट के लिए झगड़ रहे है!

दिल्ली में बीजेपी और आप आमने सामने, जनता के मुद्दे से किसी को कोई मतलब नहीं, सिर्फ वोट के लिए झगड़ रहे है!
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
दिल्ली में 15 साल से बीजेपी दिल्ली महानगर निगम में काम कर रही है जबकि आम आदमी पार्टी दिल्ली में 8 साल से सरकार में है। फिर भी दिल्ली की सफाई और प्रदूषण को लेकर दोनों पार्टियों एक दूसरे पर आरोप लगाते नजर आ रहे है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जब सीएम के पद की शपथ लि तो कहा कि में यमुना को नहाने के लिए कर देंगे। लेकिन अब जब एमसीडी का चुनाव सर पर खड़ा है तो केजरीवाल पूर्वी दिल्ली के कुढ़े...

दिल्ली में 15 साल से बीजेपी दिल्ली महानगर निगम में काम कर रही है जबकि आम आदमी पार्टी दिल्ली में 8 साल से सरकार में है। फिर भी दिल्ली की सफाई और प्रदूषण को लेकर दोनों पार्टियों एक दूसरे पर आरोप लगाते नजर आ रहे है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जब सीएम के पद की शपथ लि तो कहा कि में यमुना को नहाने के लिए कर देंगे। लेकिन अब जब एमसीडी का चुनाव सर पर खड़ा है तो केजरीवाल पूर्वी दिल्ली के कुढ़े के ढेर को देखने जाते है जहां बीजेपी के लोग उनका विरोध करते है। जबकि जबाब कोई नहीं देता , सियासी रस्साकसी में दिल्ली की जनता पिसती नजर आ रही है।

वहीं दिल्ली बीजेपी के नेता और सांसद दिल्ली के स्कूल और यमुना को दिखाते घूम रहे है। इसी कड़ी में आज दिल्ली के सासद प्रवेश वर्मा ने एक अधिकारी को सरेआम लताड़ लगाई लेकिन इस बात पर कुछ नहीं बोले कि एमसीडी ने क्या जिम्मेदारी निभाई क्या एमसीडी यमुना सफाई की बात नहीं करेगी।

कुल मिलाकर दिल्ली की जनता को धोखा दिया जा रहा है। चाहे दिल्ली की केजरीवाल सरकार हो या फिर एमसीडी में बीजेपी? दोनों एक दूसरे आपस में लड़ाई दिखाकर जनता को बरगलाने में लगे हुए है कि ज्यादा वोट मुझे मिले और एमसीडी पर कब्जा किया जाए। दिल्ली के एमसीडी चुनाव से पहले न केजरीवाल को कुढ़े की चिंता है न बीजेपी को यमुना की।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it