Begin typing your search...

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा- 'मुझे दंगों में फंसान चाहते हैं कुछ लोग', दर्ज कराई शिकायत

दिल्ली दंगो के मामले में भड़काऊ भाषण देने और दंगों में भूमिका को लेकर कपिल मिश्रा का नाम खूब चर्चा में रहा था?

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा- मुझे दंगों में फंसान चाहते हैं कुछ लोग, दर्ज कराई शिकायत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली : दिल्ली दंगो के मामले में भड़काऊ भाषण देने और दंगों में भूमिका को लेकर कपिल मिश्रा का नाम खूब चर्चा में रहा था। इसी को लेकर कपिल मिश्रा पर खूब आरोप लगते रहे है। अभी हाल ही में दिल्ली पुलिस ने कपिल मिश्रा से पूछताछ भी की थी। पूछताछ के दौरान कपिल मिश्रा ने इस बात से साफ इनकार कर दिया कि उन्होंने मौजपुर में हेट स्पीच दी थी। अब नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली दंगों के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल में खुद जाके शिकायत दर्ज कराई है।

कपिल मिश्रा ने अपनी शिकायत में कहा कि कुछ लोग मुझे दंगों में फंसाना चाहते हैं और मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ नफरत फैला रहे हैं। बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा, 'मेरे खिलाफ हेट कैम्पेन चलाने वाले, मीडिया में झूठी खबरें और शिकायतें बनाने वाले, असली दंगाइयों और आतंकवादियों को बचाने वाले और मेरे तथा मेरे परिवार की सुरक्षा पर खतरा पैदा करने वालो के खिलाफ आज मैंने दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है।'




भाषण देकर नफरत फैलाने के आरोप

बता दें कि, बीजेपी नेताओं- कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा पर नागरिकता कानून के समर्थन में भड़काऊ भाषण देकर नफरत फैलाने के आरोप हैं, जिनके बाद दिल्ली में साम्प्रदायिक दंगे भड़क गए थे। हालांकि, कपिल मिश्रा ने नफरत फैलाने वाले भाषण देने से इनकार किया और उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा से खुद को दूर कर लिया है।

दिल्ली दंगे में 53 लोगों ने गंवाई थी जान

गौरतलब है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में 24 फरवरी को नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसा भड़कने के बाद सांप्रदायिक झड़पें शुरू हो गई थीं। इस दौरान कम से कम 53 लोगों की मौत हो गई थी और लगभग 200 लोग घायल हो गए थे।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it