Begin typing your search...

दिल्ली शराब घोटाले में दूसरी गिरफ्तारी, विजय नायर के बाद समीर महेंद्रू हुए गिरफ्तार, अब किसकी बारी?

विजय सीबीआई की FIR में पांच नंबर के आरोपी हैं. वह एक ईवेंट मैनेजमेंट कंपनी के पूर्व सीईओ हैं.

दिल्ली शराब घोटाले में दूसरी गिरफ्तारी, विजय नायर के बाद समीर महेंद्रू हुए गिरफ्तार, अब किसकी बारी?
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

दिल्ली के कथित शराब घोटाले में ईडी ने बुधवार सुबह दूसरी गिरफ्तारी की है. विजय नायर को गिरफ्तार किए जाने के बाद अब ईडी ने शराब व्यवसायी समीर महेंद्रू को गिरफ्तार किया है. महेंद्रू इंडोस्पिरिट्स नामक कंपनी के प्रबंध निदेशक हैं. समीर से कल सीबीआई ने पूछताछ की थी और आज ईडी ने जांच के लिए बुलाया था. कुछ देर पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

विजय सीबीआई की FIR में पांच नंबर के आरोपी हैं. वह एक ईवेंट मैनेजमेंट कंपनी के पूर्व सीईओ हैं. विजय नायर लंबे समय से आम आदमी पार्टी से जुड़े हैं, हालांकि उनके पास कोई पद नहीं है. सीबीआई मनीष सिसोदिया और विजय नायर सहित कम से कम 14 अन्य व्यक्तियों की भूमिका की जांच कर रही है.

दिल्ली के आबकारी केस में सितंबर के पहले सप्ताह तक सीबीआई ने पांच लोगों से एक बार पूछताछ की थी. यह पांच लोग सनी मरवाहा, अमनदीप ढाल,अमित अरोड़ा,समीर महेंद्रू और अरुण रामचन्द्रा पिल्लई हैं. इन सभी से एक बार सीबीआई हेडक्वार्टर में पूछताछ की गई थी. विजय नायर और दिनेश अरोड़ा विदेश में थे इसलिए उनसे पूछताछ नहीं हुई.

एफआईआर के मुताबिक -सनी मारवाह महादेव लिकर में ऑथराइज्ड सिग्नेटरी था और उन कंपनियों में भी यह डायरेक्टर के पद पर है जो पौंटी चड्डा से संबंधित हैं. सनी मारवाह एक्साइज के तत्कालीन अधिकारियों का बेहद करीबी बताया जाता है. एक्साइज के अधिकारियों को फायदा पहुंचाने, लाइसेंस दिलवाने में वह बिचौलिए का काम करता था. महादेव लिकर्स कंपनी ओखला के बी 303 इंडस्ट्रियल एरिया में है. इसके अलावा E38 कालकाजी में भी दफ्तर है. इसमें सनी मारवाह सिग्नेटरी है.

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it