Top
Begin typing your search...

दिल्ली में चोर को पकड़े जाने का था डर, तीसरी मंजिस से कूदा, हो गई मौत

राजधानी दिल्ली के यमुनापार के पांडव नगर इलाके में स्थित आचार्य निकेतन में चोरी के इरादे से घर में घुसे 15 वर्षीय एक लड़के ने तीसरी मंजिल से पकड़े जाने के डर से छलांग लगा दी।

दिल्ली में चोर को पकड़े जाने का था डर, तीसरी मंजिस से कूदा, हो गई मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

राजधानी दिल्ली के यमुनापार के पांडव नगर इलाके में स्थित आचार्य निकेतन में चोरी के इरादे से घर में घुसे 15 वर्षीय एक लड़के ने तीसरी मंजिल से पकड़े जाने के डर से छलांग लगा दी। तीसरी छलांग लगाने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बाद शव परिवार के हवाले कर दिया गया है। बता दें कि ने मकान मालिक की शिकायत पर घर में घुसकर चोरी करने के प्रयास का मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जांच में जुटी पुलिस सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। इन फुटेज में लड़का अकेले ही घर में घुसते नजर आ रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आचार्य निकेतन में जायसवाल परिवार रहता है। ग्राउंड फ्लोर पर इनका पतंजलि स्टोर है। जबकि अन्य हिस्से में परिवार के सदस्य रहते हैं। बुधवार शाम परिवार ने एक लड़के को घर में घुसते देखा। लड़का तीसरी मंजिल पर पहुंच गया था। इस पर परिजनों ने जब शोर मचाया तो लड़के को पकड़े जाने का भय सताने लगा।

बताया गया कि लड़के ने पहले तो खुद को तीसरी मंजिल के बाथरूम में ही अंदर से बंद कर लिया। जिसके बाद घर के सदस्यों ने दरवाजा खुलवाने का प्रयास किया, लेकिन लड़के ने डर की वजह से दरवाजा नहीं खोला। इसके बाद घर वालों ने दरवाजे की कुंडी खोलने के लिए एक बढ़ई को बुला लिया। मिली जेकरि के अनुसार अभी बढ़ई दरवाजा खोल ही रहा था कि अंदर बंद लड़के ने बाथरूम की खिड़की से नीचे गली में छलांग लगा दी। वह नीचे गिरते ही बेहोश हो गया। जिसके बाद आनन-फानन में उसे पास के एलबीएस अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जांच के दौरान यह पत चला कि मरने वाला लड़का अपने परिवार के साथ शशि गार्डन में रहता था। उसके परिवार में माता-पिता और दो भाई हैं। पिता की शशि गार्डन में किराने की दुकान है। इसके चाचा भी दिल्ली पुलिस में एएसआई हैं। उसकी मौत पर फिलहाल परिवार ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। वह आठवीं कक्षा का छात्र था। अब पुलिस इस बात का पता लगाने का प्रयास कर रही है कि क्या सचमुच वह घर में चोरी करने के इरादे से घुसा था या फिर इसकी कोई और भी वजह थी।

Sakshi
Next Story
Share it