Top
Begin typing your search...

क्यों योगी सरकार और भाजपा शहीद सुबोध सिंह के परिवार के दर्द पर नमक छिड़क रही है?

आप सांसद संजय सिंह का सवाल

क्यों योगी सरकार और भाजपा शहीद सुबोध सिंह के परिवार के दर्द पर नमक छिड़क रही है?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने यूपी की योगी सरकार पर एक बडा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि आखिर क्यों योगी सरकार और भाजपा शहीद सुबोध सिंह के परिवार के दर्द पर नमक छिड़क रही है?

सांसद संजय सिंह ने कहा है कि क्यों योगी सरकार और भाजपा शहीद सुबोध सिंह के परिवार के दर्द पर नमक छिड़क रही है? यू पी पुलिस का कौन सा अधिकारी ड्यूटी के लिये अपनी शहादत देगा. इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या का प्रमुख आरोपी शिखर अग्रवाल BJP का पदाधिकारी और PM जन कल्याण योजना का महामंत्री बनाया गया.


मालूम हो कि रिपोर्ट के मुताबिक बुलंदशहर हिंसा के आरोपी जीतू फौजी, शिखर अग्रवाल, हेमू, उपेंद्र सिंह राघव, सौरव और रोहित राघव कोर्ट से जमानत लेकर जैसे ही जेल से बाहर आए, हिन्दूवादी संगठन से जुड़े लोगों ने फूल माला पहनाकर उनका स्वागत किया था. इस दौरान भारत माता की जय, वन्दे मातरम और जय श्री राम के नारे लगाए गए. शिखर अग्रवाल भाजपा युवा मोर्चा के स्याना के पूर्व नगर अध्यक्ष थे. जबकि उपेंद्र सिंह राघव अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के विभाग अध्यक्ष है. घटना से पहले वह विश्व हिंदू परिषद के विभाग अध्यक्ष रह चुके थे. इस दौरान पूरी घटना का वीडियो किसी ने बना लिया. ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा था. वीडियो में आरोपियों को फूलों की माला पहनाई जा रही है. कुछ लोग वीडियो रिकॉर्ड कर रहे हैं और कुछ लोग आरोपियों के साथ फोटो खिचवा रहे है .

कानून हाथ में लेने वालों का सम्मान क्यों?

इस घटना पर यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता द्विजेंद्र त्रिपाठी ने कहा है कि बुलंदशहर केस में हम सभी जानते हैं कि कैसे बीजेपी ने आरोपियों को बचाने की कोशिश की थी और अब सत्ताधारी पार्टी के समर्थक आरोपियों का स्वागत कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार को ये साफ करना चाहिए कि उनकी पार्टी हमेशा उनका साथ क्यों देती है जो कानून हाथ में लेते हैं?

वहीं कांग्रेस के आरोपों पर बीजेपी ने कहा है कि कानून हाथ में लेने वालों को बीजेपी कभी शह नहीं देती है. बीजेपी प्रवक्ता मनोज मिश्रा ने कहा, "हम लोग अपराधियों को कभी साथ नहीं देते हैं, आरोपियों का स्वागत करने वाले पार्टी के कार्यकर्ता नहीं हैं, हम नहीं जानते हैं कि किन हालात में जेल के बाहर इनका स्वागत किया गया था, लेकिन बीजेपी से इनका कोई लेना-देना नहीं है."

वहीं अभी हाल ही में आठ पुलिसकर्मीयों की हत्या केआरोपियों की पुलिस ने एनकाउन्टर में मार गिराया. जबकि इस केस के आरोपियों को बीजेपी शह क्यों दे रही है. क्या सुबोध कुमार पुलिसकर्मी नहीं थे. क्या योगी सरकार की जानकारी में यह बात नहीं है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it