Begin typing your search...

कोरोना वायरस से मृत महिला का हुआ अंतिम संस्कार

कोरोना वायरस के दिन-ब-दिन बढ़ते प्रकोप के कारण विश्वभर में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, अस्पतालों में मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है, स्कूल, कॉलेज, कार्यालय, स्टेडियम बंद हो रहे हैं और वित्तीय एवं आर्थिक गतिविधियों पर इसका बहुत बुरा असर पड़ रहा है।

कोरोना वायरस से मृत महिला का हुआ अंतिम संस्कार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से भारत में मौत का दूसरा मामला सामने आ गया है। दिल्ली में 69 साल की बुजुर्ग महिला की मौत हुई है, जो कोरोना वायरस से संक्रमित थी। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय और दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने दी। अधिकारियों ने बताया कि महिला की मौत एक से ज्यादा बीमारियों (मधुमेह और उच्च रक्तचाप) की वजह से हुई है। हालांकि, उसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि भी हुई है। दिल्ली के आरएमएल अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित महिला ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना वायरस की वजह से महिला की मौत हो गई थी, जिसका निगमबोध घाट पर अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया गया. लेकिन जब इस संबंध में एक न्यूज चैनल पर खबर चली तो बाद में निगमबोध घाट ने कोरोना से जान गंवाने वाली महिला के अंतिम संस्कार की अनुमति दे दी गई असल में, परिजन जब शव लेकर पहुंचे तो निगमबोध घाट प्रशासन ने अंतिम संस्कार करने की अनुमति नहीं दी. एक रिश्तेदार का बताया कि उन्होंने निगमबोध घाट के प्रमुख को फोन किया और स्थिति से अवगत कराया. इस पर निगमबोध घाट के प्रमुख ने कहा कि शव को यहां से ले जाएं और दूसरी जगह अंतिम संस्कार करें.

शुक्रवार रात 8 बजे महिला मरीज ने आरएमएल अस्पताल में दम तोड़ दिया। दिल्ली में कोरोना से पहली मौत होने के बाद अस्पताल में अफरातफरी मच गई। आधी रात को अस्पताल परिसर में कैट्स एंबुलेंस दौड़ती रहीं। दिल्ली में कोरोना महामारी घोषित होने के बाद यह पहला मामला है जिसमें किसी की मौत हुई है।

हालांकि महिला का शव रात 11 बजे पोस्टमार्टम के लिए शवगृह पहुंचा। इस बीच महिला का शव वार्ड में ही रखा हुआ था। जानकारी के अनुसार मोर्चरी में एक विशेष कमरा तैयार करने में डॉक्टरों को वक्त लग गया। महिला का शव इस कमरे में रखा है। शनिवार को महिला के शव को पोस्टमार्टम करने के बाद लोधी रोड स्थित श्मशान घाट पर बिजली शवदाहगृह में होगा।

अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक महिला मरीज कोरोना पॉजीटिव थी। ऐसे में उनका अंतिम संस्कार सामान्य तरीके से नहीं किया जा सकता। इसके लिए शनिवार को बाकायदा एक विशेष टीम तैयार की जाएगी। जो मोर्चरी से लेकर अंतिम संस्कार तक मौजूद रहेगी।

बहरहाल देर रात मृतक महिला के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए। महिला का कारोबारी बेटा भी आरएमएल में भर्ती है। डॉक्टरों का कहना है कि कारोबारी की हालत स्थिर है। जबकि महिला मरीज आईसीयू में भर्ती थी। परिजनों के ही अनुसार उनके घर में कुल 10 सदस्य हैं। मां की मौत की खबर अभी तक उन्होंने कारोबारी बेटे को नहीं दी है।

दरअसल, चीन में करीब तीन महीने पहले दस्तक देने के बाद अब वैश्विक महामारी का रूप धारण कर चुका कोरोना वायरस संक्रमण 5,000 से अधिक लोगों की जान ले चुका है और दुनियाभर में 1,34,300 से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं। कोरोना वायरस के दिन-ब-दिन बढ़ते प्रकोप के कारण विश्वभर में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, अस्पतालों में मरीजों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है, स्कूल, कॉलेज, कार्यालय, स्टेडियम बंद हो रहे हैं और वित्तीय एवं आर्थिक गतिविधियों पर इसका बहुत बुरा असर पड़ रहा है।

Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it