Top
Begin typing your search...

राज कुंद्रा की जमानत याचिका का पुलिस ने किया विरोध, बताया बेल मिलने पर क्या है खतरा ?

राज कुंद्रा की जमानत याचिका का पुलिस ने किया विरोध, बताया बेल मिलने पर क्या है खतरा ?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

राज कुंद्रा पोर्नोग्राफी मामले में गिरफ्तार होने के बाद से लगातार चर्चा में बने हुए हैं। आए दिन राज कुंद्रा और उनके सहयोगियों को लेकर नए खुलासे हो रहे हैं। बता दें कि राज कुंद्रा ने कोर्ट में जमानत के लिए याचिका लगाई है।

कोर्ट मे इस याचिका की सुनवाई के दौरान मुंबई पुलिस ने इसका विरोध किया। मंगलवार को पुलिस ने कोर्ट से दरख्वास्त की कि उन्हें जमानत न दी जाए। पुलिस ने कोर्ट में कहा कि राज कुंद्रा को बेल मिलने से समाज में गलत मेसेज जाएगा। इसके अलावा पुलिस ने यह भी कहा कि राज कुंद्रा छूटने के बाद फिर से ये क्राइम करेंगे और यहां तक कि वह भागने की कोशिश भी कर सकते हैं।

बिजनसमैन राज कुंद्रा को पोर्न वीडियो शूट करने और उन्हें ऐप के जरिये टेलीकास्ट करने के आरोप 19 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने स्टेटमेंट में राज कुंद्रा को पोर्न ऐप रैकेट का मास्टरमाइंड भी बताया था। राज कुंद्रा न्यायिक हिरासत में हैं। उन्होंने जमानत की याचिका दी थी। पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, राज कुंद्रा ने दलील दी थी कि पुलिस ने अप्रैल में चार्ज शीट फाइल की थी उनका नाम इसमें और केस से जुड़ी FIR में नहीं है। याचिका में कहा गया है कि जिनका नाम है वे बेल पर बाहरा हैं। साथ ही कहा है कि मजिस्ट्रेट कोर्ट ने पहले उनकी जमानत की याचिका खारिज करके गलती की थी।

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने मंगलवार को इसके जवाब में कहा है कि राज कुंद्रा का जुर्म काफी गंभीर है और उन्होंने जो वीडियोज अपलोड किए हैं उनकी जांच अभी तक चल रही है। पुलिस ने कहा कि अगर जमानत दी जाती है तो वह फिर से अश्लील वीडियो अपलोड करेंगे जिससे हमारे संस्कृति पर असर पड़ेगा और समाज में गलत मेसेज जाएगा।

पुलिस ने ये भी कहा कि राज कुंद्रा फरार आरोपी प्रदीप बख्शी के रिश्तेदार हैं। छूटने पर वह उनसे बात करेंगे जिससे प्रदीप जांच से बच सकते हैं और उनकी मदद होगी। राज के पाल ब्रिटिश नागरिकता है तो बेल मिलने पर वह भाग भी सकते हैं। पुलिस ने कहा कि बहुत संभव है कि वीडियो भारत के बाहर से अपलोड किए गए हों क्योंकि राज फिल्मी दुनिया से भी कनेक्टेड हैं। इस केस की पीड़ित गरीब महिलाएं हैं और अगर राज बेल पर छूटते हैं तो हो सकता है कि वह अहम सबूतों के साथ सामने न आएं। कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई 20 अगस्त तक आगे बढ़ा दी है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it