Top
Begin typing your search...

प्रियंका चौपड़ा ने मम्मी पापा के साथ देखा 'एतराज' का हॉट सीन, बताया ऐसा हुआ था हाल

फिल्म 'ऐतराज' में प्रियंका चोपड़ा का कैरेक्टर थोड़ा सा नेगेटिव था। फिल्म में उनके कई इंटीमेट सीन्स थे फिल्म की स्क्रीनिंग के वक्त उनके पेरेंट्स साथ में थे। इन सीन्स की वजह से उन्हें काफी शर्मिंदगी हुई थी।

प्रियंका चौपड़ा ने मम्मी पापा के साथ देखा एतराज का हॉट सीन, बताया ऐसा हुआ था हाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

प्रियंका चोपड़ा हॉलीवुड और बॉलीवुड दोनों जगह अपनी जगह बना चुकी हैं। प्रियंका चोपड़ा इस बीच कई फिल्मों में बोल्ड सीन्स भी दिए। फिल्म 'ऐतराज' में प्रियंका चोपड़ा का कैरेक्टर थोड़ा सा नेगेटिव था। फिल्म में उनके कई इंटीमेट सीन्स थे। एक सीन में वह अक्षय कुमार के साथ जबरदस्ती भी करती हैं। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया था कि फिल्म की स्क्रीनिंग के वक्त उनके पेरेंट्स साथ में थे। इन सीन्स की वजह से उन्हें काफी शर्मिंदगी हुई थी। प्रियंका को यह भी डर था कि इस फिल्म में उनके 'सेक्शुअली चार्ज्ड' कैरेक्टर को देखकर लोग उन्हें पहले वाली नजरों से नहीं देख पाएंगे।

प्रियंका चोपड़ा ने जब ऐतराज फिल्म की तो उस वक्त वह 21 साल की थीं। उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि कई लोगों ने उन्हें इस फिल्म में काम करने से पहले आगाह किया था। लोगों का कहना था कि 'सेक्स की भूखी' महिला का रोल करने के बाद दर्शक उन्हें उस 'पवित्रता' के साथ नहीं देखेंगे।

वैनिटी फेयर को दिए इंटरव्यू में प्रियंका ने कहा था, उस वक्त हिरोइन्स को शर्मीली, निश्लच और अच्छी लड़की दिखने की उम्मीद की जाती थी जबकि उनका किरदार एक 'बुरी औरत' का था। मैं 21 या 22 साल की थी। मेरा किरदार सेक्शुअल प्रीडेटर का था। लोगों का कहना था, अगर ऐसा किरदार निभाओगी तो लोग तुमको उस पवित्रता के साथ अपनी ड्रीम गर्ल के रोल में नहीं देख पाएंगे। जिन लड़कियों को लोग बिस्तर तक ले जाते हैं, उन्हें पेरेंट्स के पास नहीं ले जाया जाता।

पेरेंट्स के सामने शर्मिंदा भी थी

प्रियंका फिल्म को मिले रिस्पॉन्स से भी हैरान थीं। उन्होंने बताया था, मैं कभी नहीं भूलूंगी, हम स्क्रीनिंग में थे और मैं डरी हुई थी। मैं थोड़ी शर्मिंदा भी थी क्योंकि मेरे पेरेंट्स फिल्म देख रहे थे। जब फिल्म खत्म हुई, लोग खड़े होकर ताली बजाने लगे और मुझे देखने लगे। फिल्म में दूसरे लोग भी थे जो बड़े स्टार्स थे और मैं थिएटर्स से बाहर निकल आई। लोग मुझे बधाई देने के लिए बाहर खड़े थे। यह मेरे लिए बड़ी बात थी क्योंकि मेरे दिमाग में था कि मुझे इसके बाद फिल्मों से नकार दिया जाएगा। प्रियंका ने बताया कि ऐतराज ने उनका करियर बदल दिया और वह ऐसे प्रोजेक्ट लेने लगीं जिन्हें लेने में डर लगता था।

Sakshi
Next Story
Share it