Top
Begin typing your search...

रिया चक्रवर्ती का बड़ा खुलासा- बहन और जीजा के साथ ड्रग्स लेते थे सुशांत सिंह राजपूत

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती ने NCB को इकबालिया बयान दिया है.

रिया चक्रवर्ती का बड़ा खुलासा- बहन और जीजा के साथ ड्रग्स लेते थे सुशांत सिंह राजपूत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने NCB को इकबालिया बयान दिया है. यह बयान NCB के चालान यानी की चार्जशीट में भी शामिल है और कोर्ट ने 16/2020 कम्प्लेंट केस नंबर में यह चार्जशीट पर संज्ञान लिया हुआ है. इस मामले में फिलहाल रिया और अन्य आरोपी जमानत पर बाहर है. रिया ने खुद अपने हाथों से लिख यह इकबालिया बयान NCB को दिया है. रिया ने इसमें लिखा, 'मुझे अपना व्हाट्सएप खोलने के लिए कहा गया, जिसमें मेरी एक चैट एक अभिनेत्री के साथ थी. मैंने उसे 4 जून को खोला.' रिया ने बताया है कि सुशांत अपनी बहन और जीजा के साथ मारिजुआना लेते थे.

रिया चक्रवर्ती ने लिखा, 'कुछ बातें ऐसी थीं, जो इस बात की ओर इशारा कर रही थीं हैंगओवर के लिए. वो बात कर रही थी आइसक्रीम और मारिजुआना के लिए, जो वो इस्तेमाल करती है. उसने मुझे ऑफर किया पेन रिलीफ के लिए. आपने मुझे 30 जुलाई, 2017 का चैट रिकॉर्ड दिखाया, जिसमें उन्होंने आने का फैसला किया, उन शब्दों का इस्तेमाल करते हुए स्मोक और डूजी, वो अभिनेत्री अपने साथ रोल्ड डूजी रखती थी. डूजी मारिजुआना के जॉइंट होते हैं. कुछ मौकों पर मैंने यह उसके साथ लिया है. वो मुझे डूजी मुहैया करवाती थी.'

रिया ने आगे लिखा, '6 जून 2017 की जो चैट्स आपने मुझे दिखाई हैं, उसमें वोडका और डूजी का जिक्र है. वो मुझे वोडका ऑफर कर रही है, साथ में मारिजुआना भी है. मैंने उस दिन उससे कोई भी वोडका नहीं रिसीव की थी, फिर मैंने चोको के साथ चैट्स को ओपन किया, जिसको आपने सुझाया था. चोको शौविक है मेरा भाई. कुछ बातें ऐसी हैं, जिनका रिश्ता और असर clomaz, clomnezepan, quita clon है. मैं यह बताना चाहती हूं कि ये चीजें डॉक्टर निकिता की प्रिस्क्रिप्शन (जैसा कि मैसेज और प्रिस्क्रिप्शन की कॉपी में लिखा गया है) है.'

एक्ट्रेस ने आगे लिखा, 'ऐसा दिख रहा है कि शौविक और मैं गूगल के जरिये clomnezepan के साइड इफेक्ट्स के बारे में बात कर रहे हैं. डॉक्टर से बात करने के बाद उन्होंने उन दवाओं को प्रिस्क्रिप्शन के मुताबिक जारी रखने का सुझाव दिया. सुशांत अच्छा नहीं कर रहा था और उसकी हालत खराब होती जा रही थी, इसलिए शौविक चिंतित था. clomnezepan और उसके साइड इफेक्ट के बारे में. डॉक्टर निकिता से चेक करने के बाद यह पता लगा कि हमें गूगल डॉक्टर नहीं बनना चाहिए.'

रिया ने लिखा, 'मैं यह भी जोड़ना चाहती हूं कि 8 जून, 2020 को सुशांत सिंह राजपूत ने एक व्हाट्सएप मैसेज अपनी बहन प्रियंका से रिसीव किया. उस मैसेज में इस बात का जिक्र था कि librium 10 mg, nexito etc, जो ड्रग्स थे NDPS में, सुशांत इस दवाओं का सेवन करे. उसने एक पर्ची डॉक्टर तरुण की, जो कि कार्डियोलॉजिस्ट है, मुहैया करवाई. उन्होंने सुशांत को OPD पेशेंट के लिए मार्क किया है. बिना उससे मिले और ऑनलाइन कन्सल्टेशन किए हुए. इसका मतलब सुशांत को तुरंत अस्पताल की जरूरत थी.'

उन्होंने लिखा, 'इन दवाओं को मनोचिकित्सक के परामर्श के बिना नहीं दिया जा सकता है. मैं यह विनती करती हूं कि इस बात को नोट किया जाए कि इन ड्रग्स से उसकी (सुशांत राजपूत) मौत हो सकती थी, क्योंकि उसकी बहन मीतू उसके साथ 8 से 12 जून के दौरान रह रही थी. मैंने मुंबई पुलिस को यह भी सूचना दी है और उन्होंने इस बात का संज्ञान भी लिया है. वह मारिजुआना का सेवन करता था, बिना मेरी सहमति के. वह इसका सेवन मुझसे मिलने के पहले भी कर रहा था. वह मेरे पास आता था, इस कोशिश में ताकि उसको मारिजुआना मिल सके या फिर वह इसे मुझे ऑफर करे. मैंने अस्पताल में उसके दाखिले की कोशिश की, जिसका मेरे पास सबूत है. लेकिन उसकी सहमति नहीं थी, इसलिए वह अस्पताल में भर्ती नहीं हो सका.'

रिया ने लिखा, 'मैं यह भी जोड़ना चाहती हूं कि सुशांत के घरवाले यह बात भलीभांति जानते थे कि उसे मारिजुआना की लत लग चुकी थी. मैं यह भी बताना चाहती हूं कि उसकी बहन प्रियंका और जीजा सिद्धार्थ मारिजुआना का सेवन करते थे सुशांत के साथ और उसके लिए लाया भी करते थे. इस बयान को देने के दौरान मेरे साथ अच्छा बर्ताव हुआ है. मुझे खाना मुहैया करवाया गया है. NCB के अधिकारियों ने मेरे साथ कोई गलत व्यवहार नहीं किया. मैं बिना किसी डर और धमकी के यह बयान दे रही हूं.'

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it